हजारीबाग, जागरण संवाददाता। हजारीबाग ज‍िले के इचाक थाना क्षेत्र के राष्‍ट्रीय राजमार्ग-33 पर बोंगा स्थित पेट्रोल पंप के आगे एक हुंडई कार आई-20 हजारीबाग जाने के क्रम में पुल के नीचे गिर गई। इस दुर्घटना में कार में बैठे तीन युवकों की मौत मौके पर ही हो गई, जबकि एक युवक ने इलाज के क्रम में अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं एक अन्य युवक की हालत गंभीर है। उसका इलाज चल रहा है। डाक्‍टरों ने उसकी हालत बेहद गंभीर बताई है।

आई-20 कार बुरी तरह से क्षत‍िग्रस्‍त

जानकारी के अनुसार, यह भीषण दुर्घटना मंगलवार की रात करीब 2 बजे की है। हजारीबाग जाने के क्रम में पुल से तेज रफतार कार नीचे ग‍िर गई। कार के परखच्‍चे उड़ गए। कार बुरी तरह से चपट गई है। कार की हालत देखकर कोई भी इस भीषण हादसे का अंदाजा लगा सकता है।

मरने वालों में इचाक, चंदा व कारी माटी के न‍िवासी

जानकारी के अनुसार, मृतकों में हजारीबाग ज‍िले के इचाक प्रखंड के कुरहा गांव निवासी चंदन मेहता (पिता नरेश प्रसाद मेहता), चंदा गांव निवासी अश्विनी कुमार (पिता दिनेश्वर प्रसाद मेहत) और कारी माटी गांव के ललन कुमार (पिता काली प्रसाद मेहता) शामिल हैं। चौथे मृतक के नाम की जानकारी अबतक नहीं म‍िली है। इसी तरह घायल के बारे में भी अभी तक कोई जानकारी नहीं म‍िल पाई है। दोनों कहां के रहने वाले हैं, पुल‍िस श‍िनाख्‍त करने में जुटी हैं।

तीन पोल को टक्‍कर मारने के बाद पुल के नीचे ग‍िरी कार

जानकारी के अनुसार, पांच युवक हजारीबाग से चंदा गांव बराती आये थे। बराती में खाना पीना के बाद वापस हजारीबाग जा रहे थे। जाने के क्रम में बोंगा के पास गाड़ी अनियंत्रित हुई और तीन पोल को टक्कर मारते हुए पुल के नीचे जा गिरी।

वार्ड सदस्‍य ने सभी को कार से न‍िकालकर पहुंचाया

मौके पर बोंगा निवासी वार्ड सदस्य दिलीप मेहता पहुंंचकर अपनी गाड़ी से किसी तरह सहयोगियों के साथ सभी को कार से बाहर निकाला। पांचों युवकों को इचाक थाने की मदद से हजारीबाग भ‍िजवाया। बताया जाता है चौथे युवक की मौत रांची के एक अस्‍पताल में इलाज के दौरान हुई है। घायल युवक का इलाज भी रांची में ही चल रहा है।

बरात में शाम‍िल होने के बाद घर लौटते समय हादसा

जानकारी के अनुसार, सभी युवक इचाक के बड़ासी गांव निवासी कुलेश्वर महतो के पुत्र की शादी में शामिल होने के लिए बारात गए थे। हजारीबाग के दीपूगढ से मंगलवार की शाम बरात में शाम‍िल होने के ल‍िए निकले थे। शादी समारोह संपन्न होने के बाद वापस हजारीबाग की ओर लौट रहे थे।

शादी का माहौल गम में बदला, गांव में मातम

इसी दौरान यह हादसा हो गया। घटना के बाद से पूरे गांव में मातम है। शादी का माहौल भी गम में बदल गया है। बताया जाता है कि इसमें मृतक चंदन मेहता एक दिन पहले ही कोलकाता से शादी समारोह में शामिल होने के लिए पहुंचा था।

Edited By: M Ekhlaque