रांची : आर्ट ऑफ लिविंग ने राजयोग केंद्र में योग अभ्यास का कार्यक्रम शुरू कर दिया है। आर्ट ऑफ लिविंग के झारखंड स्टेट को-ऑर्डिनेटर ऋषि शाहदेव ने बताया कि दो अप्रैल को झारखंड सरकार और आर्ट ऑफ लिविंग के बीच एमओयू हुआ था। 3 अप्रैल से ही राजयोग केंद्र में योग के कई कार्यक्रम शुरू कर दिया गया है। जिसमें प्रति दिन सुबह 6.30 से 8 तक ग्रुप साधना कराया जाता है। हर दिन मंगलवार को 5.30 से 7 बजे शाम में गुरु पूजा तथा सत्संग का आयोजन होता है। 15 से 22 अप्रैल को युवा नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जो सुबह 6 बजे से संध्या 8 बजे तक चलेगा। इसमें झारखंड के कई जिलों से ग्रामीण युवा भाग लेंगे। 22 से 25 अप्रैल को उपनयन संस्कार का आयोजन किया जा रहा है। 108 प्रतिभागी भाग लेंगे। 22 से 25 अप्रैल को राजयोग केंद्र में पहले हैप्पीनेस शिविर का आयोजन किया जाएगा। जिसमें विश्वविख्यात सुदर्शन क्रिया सिखाई जाएगी। इसका संचालन आर्ट ऑफ लिविंग के झारखंड स्टेट को-ऑर्डिनेटर ऋषि शाहदेव और शशाक शेखर करेंगे। ऋषि शाहदेव ने बताया कि इस हैप्पीनेस शिविर में भी 108 प्रतिभागी भाग लेंगे। 40 लोग अभी तक नामाकन करा चुके हैं। 27 से 30 अप्रैल तक ग्रामीण युवाओं के लिए एडवास पार्ट 2 कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। 9 से 13 मई तक शहर के निवासियों के लिए आर्ट ऑफ लिविंग एडवास कोर्स का आयोजन होगा। रविवार को योग-दान का भी आयोजन किया जाएगा। राजयोग केंद्र के संचालन की जिम्मेदारी मिलने से आर्ट ऑफ लिविंग,झारखंड के सभी सदस्यों में बहुत उत्साह है और उन्होंने झारखंड के जन-जन तक योग की लहर फैलाने का संकल्प लिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस