Move to Jagran APP

PLFI का विस्तार करने में लगा हुआ था एरिया कमांडर, पुलिस ने खदेड़कर पांच को दबोचा; बरामद सामान के बारे में जानकर रह जाएंगे हैरान

रांची पुलिस ने सोमवार को नगड़ी इलाके से पीएलएफआई के एरिया कमांडर बिजय बक्शीनरीज पाईकअनमोल बड़ाईक रोहित सिंह और काली टोप्पो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस ने आरोपितों के पास से दो लोडेड पिस्टल डेढ लाख रुपये एक थार एक स्‍कॉर्पियो एक चाकू दो वॉकी-टॉकी और एक फाइटर बरामद किया है। एसएसपी ने बताया कि सभी उग्रवादी दो गाड़ी में सवार होकर नगड़ी की ओर जा रहे थे।

By prince kumar Edited By: Prateek Jain Published: Tue, 11 Jun 2024 09:26 AM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 09:26 AM (IST)
PLFI का विस्तार करने में लगा हुआ था एरिया कमांडर, पुलिस ने खदेड़कर पांच को दबाेचा

जागरण संवाददाता, रांची। रांची पुलिस ने सोमवार को नगड़ी इलाके से पीएलएफआई के एरिया कमांडर बिजय बक्शी,नरीज पाईक,अनमोल बड़ाईक, रोहित सिंह और काली टोप्पो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस ने आरोपितों के पास से दो लोडेड पिस्टल, डेढ लाख रुपये, एक थार, एक स्‍कॉर्पियो, एक चाकू, दो वॉकी-टॉकी और एक फाइटर बरामद किया है।

एसएसपी चंदन सिन्हा ने बताया कि सभी उग्रवादी दो गाड़ी में सवार होकर नगड़ी की ओर जा रहे थे। पुलिस ने वाहन चेकिंग अभियान लगाया। पुलिस को देखते ही सभी उग्रवादी भागने लगे। पुलिस ने खदेड़कर सभी उग्रवादियों को गिरफ्तार किया और उन्हें नगड़ी थाना ले आया गया।

छह एकड़ जमीन पर कब्जा कराने पहुंचे थे उग्रवादी

पूछताछ में उग्रवादियों ने बताया कि वह ललगुटवा के समीप छह एकड़ जमीन पर कब्जा कराने पहुंचे थे। उस जमीन के लिए एक कारोबारी ने जमीन मालिक को तीस लाख रुपये दिया है। लेकिन जमीन कारोबारी जमीन पर कब्जा नहीं कर पा रहा था।

जमीन कारोबारी ने उग्रवादियों को पैसा देकर जमीन पर कब्जा पाना चाहता था। एसएसपी का कहना है कि इन उग्रवादियों के द्वारा कई कारोबारी से रंगदारी की मांग भी की गई है। इसके अलावा ये राजधानी के अलग अलग इलाकों में विवादित जमीन पर कब्जा कराने का काम करते हैं।

उग्रवादी जमीन पर पहुंचते हैं और जो भी सामने आता है तो उसे हथियार का भय दिखाकर डरा धमकाकर भेज देते हैं। इनके द्वारा कई जमीन को कब्जा दिलाया गया है। पुलिस उन सभी जमीन की जांच करेगी। पकड़े गए उग्रवादियों ने कुछ और उग्रवादियों का नाम बताया है जमीन के कारोबार से जुड़े हुए हैं। पुलिस उन्हें पकड़ने का प्रयास कर रही है।

एरिया कमांडर पर अलग अलग थानों में दर्ज हैं 19 मामले

एसएसपी का कहना है कि एरिया कमांडर बिजय बक्शी पर अलग अलग थानों में 19 मामले दर्ज हैं। बिजय बक्सी का संगठन में बड़ा नाम है। बिजय बक्शी संगठन का विस्तार करने में जुटा हुआ था। पीएलएफआई सुप्रिमो दिनेश गोप की गिरफ्तारी के बाद से ज्यादा सक्रिय हो गया था। बिजय ने कई युवकों को संगठन से जोड़ा है। विजय के इशारे पर कारोबारियों से रंगदारी की मांग की जाती है और लेवी वसूला जाता है। इसके अलावा रोहित सिंह रंगदारी के मामले में जेल जा चुका है। निरज को भी पुलिस ने अवैध हथियार के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

लाइसेंसी पिस्टल से लोगों को धमकाता था एक उग्रवादी

पुलिस की गिरफ्त में आए अनमोल बड़ाईक ने बताया कि उसके पास लाइसेंसी पिस्टल है। जब वह जमीन का काम करता था तो उसने लाइसेंस लिया था। लाइसेंसी पिस्टल दिखाकर लोगों को डराता धमकाता था।

जमीन का काम करते करते अनमोल पीएलएफआई में शामिल हो गया। एसएसपी का कहना है कि अनमोल का लाइसेंस रद किया जाएगा और उसका हथियार भी जब्त किया जाएगा। इसके अलावा राजधानी में जितने लोगों के पास हथियार का लाइसेंस है सभी का सत्यान किया जाएगा।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.