रांची, जासं। रांची के अरगोड़ा चौक पर रविवार अपराह्न साढ़े तीन बजे एक व्यक्ति को धक्का मार कर भाग रहे अनियंत्रित पिकअप वैन ने ट्रैफिक जवान को रौंद दिया। अस्पताल ले जाते समय रास्ते में जवान की मौत हो गई। दरअसल, पुलिस से बचने की कोशिश में नशे में धुत चालक ने बीच चौराहे पर जवान धीरेंद्र कुमार राय को कुचल दिया। वह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्‍हें सीने में ज्यादा चोट लगी। बताया जाता है कि दर्द से छटपटा रहे जवान को अन्य जवान आटो से गुरुनानक अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई।

उधर, भाग रहा वाहन डिबडीह पुल से पहले एक्सल टूटने से दुर्घटनाग्रस्त हो गया। तेज गति होने के कारण पीछे का एक चक्का खुल गया। दुर्घटना में चालक घायल हो गया। इससे पहले की वह भागने की कोशिश करता, पीछा करते हुए चार-पांच बाइक सवार राहगीरों ने उसे दबोच कर पुलिस के हवाले कर दिया। चालक राजू कुमार रामगढ़ जिले के गोला प्रखंड के सरला गांव का निवासी है। उसे हल्की चोट आई है।

प्राथमिक उपचार के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। चालक का मेडिकल कराया गया। उधर, देर रात उपायुक्त के आदेश पर रिम्स में जवान के शव का पोस्टमार्टम किया गया। चालक को पकड़ने वाले राहगीरों ने बताया कि उसके मुंह से शराब की बदबू आ रही थी, जबकि चालक राजू ने बताया कि कुछ देर पहले उसने गन्ना का रस पीया था।

रातू के कमड़े से सामान लेकर जा रहा था पूर्वी सिंहभूम के जमशेदपुर

पुलिस के अनुसार, चालक राजू रांची के रातू के कमड़े स्थित गोदाम से सरसों तेल, चिप्स आदि लेकर पूर्वी सिंहभूम के जमशेदपुर जा रहा था। हरमू रोड होते हुए अरगोड़ा चौक पहुंचा। वहां रेडलाइट पर रुका था। जब सिगनल ग्रीन हुआ, तो एक व्यक्ति को धक्का मार दिया। ट्रैफिक जवान ने जब उसे रोकने की कोशिश की, तो वह रौंदते हुए भाग गया। घटना के समय चार जवान और एक एएसआइ भी मौजूद थे।

पलामू का रहने वाला था जवान

ट्रैफिक जवान धीरेंद्र कुमार राय मूल रूप से पलामू के हरिहरगंज थाना क्षेत्र के भंगा के रहने वाले थे। रांची में सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के अल्कापुरी में पत्नी और दो बेटों के साथ किराये की मकान में रहते थे। उनका एक बेटा 22 वर्ष, दूसरा 17 साल का है। दोनों पढ़ाई करते हैं। ट्रैफिक जवान 2018 से ट्रैफिक ड्यूटी में थे।

गुरुनानक अस्पताल में दहाड़े मारकर रो रही थी पत्नी

उधर, दुर्घटनाग्रस्त होने की सूचना मिलते ही जवान की पत्नी व उनके बेटे गुरुनानक अस्पताल पहुंचे। मृतक की पत्नी दहाड़े मार कर रो रही थी। अन्य महिलाएं उन्हें संभाल रही थीं। उधर, घटना की सूचना के बाद बड़ी संख्या में पुलिस पदाधिकारी भी अस्पताल पहुंचे थे।

Edited By: Sujeet Kumar Suman