रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand E-Pass @ epassjharkhand.nic.in जाली ई-पास बनाकर वाट्सएप ग्रुप में पोस्ट करने, जाली ई-पास का धंधा करने की कोशिश करने के आरोप में पुलिस ने रविवार को राजेंद्र साव नामक युवक को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवक राजेंद्र साव है, जो हजारीबाग जिले के केरेडारी स्थित पांडेपुरा का रहने वाला है। इस मामले में रांची के मोटरयान निरीक्षक मुकेश कुमार के बयान पर रांची के पुंदाग ओपी में महामारी अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

ये है असली ई-पास। इस तरह पहचानें असली-नकली।

मोटरयान निरीक्षक मुकेश कुमार ने दर्ज प्राथमिकी में बताया है कि एसडीओ व डीटीओ की सूचना पर वे डोरंडा थाना पहुंचे तो देखे कि वहां पुंदाग ओपी के दारोगा अरविंद कुमार सिंह आरोपित से जाली ई-पास के संबंध में पूछताछ कर रहे हैं। पूछताछ में ही पता चला कि आरोपित राजेंद्र साव लोगों को ई-पास बनाकर देने का झांसा दे रहा था और इसके एवज में पैसे की मांग भी कर रहा था। उसने वाट्सएप ग्रुप में जाली ई-पास पोस्ट भी किया था, जिसका स्क्रीन शॉट सबूत के तौर पर रखा गया है। आरोपित ने अपना जुर्म भी कबूल लिया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप