रांची, जासं। Love Affair, Jharkhand News इंडियन रिजर्व बटालियन, आइआरबी के सिपाही ने विवाहिता को अपना गुरु बहन बताकर उसके साथ नाजायज रिश्‍ते बनाए। अवैध संबंध का यह दौर 2 साल तक चलता रहा। इस बीच विवाहिता अपने पति और बच्‍चे को छोड़ सिपाही के साथ ही रहने लगी, लेकिन सिपाही ने उसे धोखा देकर वापस रांची पहुंचा दिया और अब उससे किसी तरह का संबंध नहीं रखने के लिए धमकी दे रहा है। मामला थाना पहुंचने के बाद इस रिश्‍ते का पर्दाफाश हुआ है।

जिस आशिक के चक्‍कर में विवाहिता ने अपने पति और बच्‍चों समेत घर-बार छोड़ दिया। उस प्रेने 2 साल तक मौज-मस्‍ती करने के बाद अब विवाहिता को घर से बाहर कर दिया है। शादी का झांसा देकर 2 साल तक लगातार यौन शोषण किए जाने के मामले में राजधानी रांची के जगन्नाथपुर थानेदार पर एफआइआर दर्ज नहीं करने का आरोप लगा है। पीड़ित महिला ने बताया है कि शादी का झांसा देकर यौन शोषण किए जाने संबंधित मामले की शिकायत लेकर वे जगन्नाथपुर थानेदार के पास तीन बार गए। लेकिन थानेदार ने कहा बाहर ही मामले को सलटाओ।

इसके बाद पीड़िता एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा से मिली और शिकायत की। इसके बाद एसएसपी ने जगन्नाथपुर थानेदार को कार्रवाई का निर्देश दिया। महिला ने एसएसपी को दिए आवेदन में बताया है कि आइआरबी टू मुसाबनी में पोस्टेड जवान रामविलास यादव ने शादी का झांसा देकर दो साल तक लगातार उसका यौन शोषण किया।

करीब दो साल पहले जब वह जगन्नाथपुर इलाके के एक होटल में काम करती थी, तब जवान वहां पहुंचा और जमशेदपुर के चायपत्ती फैक्ट्री में काम दिलाने का झांसा देकर जमशेदपुर ले गया। इस दौरान उसे गुरु बहन बनाने का झांसा दिया था। जमशेदपुर ले जाने के बाद वहां जबरन शारीरिक संबंध बनाया। इसके बाद वहीं रखकर लगातार शारीरिक संबंध बनाता रहा। एक बार यूपी भी ले गया था। वहां पत्नी के विरोध के बाद दोबारा जमशेदपुर ले जाकर यौन शोषण करता रहा।

फोन करने पर दी धमकी

इधर, हाल में आरोपित आइआरबी जवान बहाने से लाकर रांची में छोड़ दिया। इसके बाद गायब हो गया। फोन करने पर जान से मारने की धमकी दी। महिला पहले से विवाहित है, पति और बच्चों को छुड़वाकर धोखा दिया। अब धमकी दे रहा है। धमकी से महिला डरी हुई है।

पत्नी से दहेज के लिए मारपीट करने वाला गिरफ्तार

रांची की महिला थाने की पुलिस ने पत्नी से दहेज के लिए मारपीट करने के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपित हटिया ओबरिया रोड निवासी मुकेश कुमार है। उसके खिलाफ पत्नी प्रतिमा कुमारी ने एफआइआर दर्ज कराई थी। एफआइआर में कहा था कि दस लाख रुपये की मांग को लेकर पति व ससुराल वाले मारपीट करते थे। एक बार केरोसीन डालकर जलाने की भी प्रयास किया गया था। मारपीट के बीच घर में पुलिस पहुंची थी। इसके बाद महिला थाने में एफआइआर दर्ज कराई थी।

चोरी के मोबाइल का कर रहा था इस्तेमाल, पुलिस ने दबोचा

सदर थाने की पुलिस ने चोरी के मोबाइल का इस्तेमाल करने वाले को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़ा गया आरोपित हजारीबाग निवासी विकास विश्वकर्मा है। वह चोरी का मोबाइल इस्तेमाल कर रहा था। तकनीकी सेल से ट्रेस करने के दौरान मोबाइल की जानकारी मिली, इसके बाद दबोच लिया गया। पुलिस की पूछताछ में मोबाइल देने वाले का वह पता नहीं बता सका। इससे पुलिस ने उसे जेल भेज दिया।

वनांचल एक्सप्रेस में मिला लावारिस बैग

वनांचल एक्सप्रेस ट्रेन से आरपीएफ स्काउट पार्टी द्वारा लावारिस हाल में सामान बरामद किया। उक्त सामान एक नंबर गेट एवं बाथरूम के समीप रखा हुआ था। सामान के बारे में यात्रियों से पूछताछ किए जाने पर कोई भी यात्री नजदीक नहीं आया। तत्पश्चात एस्कॉर्ट पार्टी द्वारा मुरी स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर उतरकर मुरी जीआरपी को सारा सामान सौंप दिया गया। बैंग में अच्छे ब्रांड के तेल, पेस्ट, शैंपू, क्रीम आदि सामान है। उक्त सामान को मुरी जीआरपी में चेक कर लिया गया है। अन्य लोगों को सूचित भी किया गया है कि जिनका सामान हो वह ले जाएं।

तेज गति की ट्रक ने ट्रैफिक सिग्नल और बिजली के खंभे को मारी टक्कर

रांची कांटा टोली चौक के समीप तेज गति तेज आ रही एक ट्रक पहले ट्रैफिक सिग्नल के खंभे को टक्कर मारी। इसके बाद बिजली के खंभे से जा टकराया। इससे दोनों खंभे क्षतिग्रस्त हो गए। कांटाटोली चौक स्थित ट्रैफिक सिग्नल खंभे को टक्कर मारने के बाद तेजी से टाटा रोड की ओर बढ़ने लगा। इस दौरान एक बिजली के खंभे से जा टकराया और वहीं सट गया। इसकी सूचना स्थानीय लोगों ने पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रक को जप्त कर लिया है। स्थानीय लोगों का कहना था कि ट्रक के लापरवाही पूर्वक तेज गति से चलाने से बाल-बाल कई लोग बच गए। एक बड़ा हादसा टल गया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021