रांची, जासं। डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय ने सेमेस्टर फीस में रियायत देने का फैसला लिया है। ग्रेजुएशन के सेमेस्टर दो और सेमेस्टर चार तथा पीजी सेमेस्टर दो के विद्यार्थियों को इसका लाभ दिया जाएगा। बीते दिनों विश्वविद्यालय परिसर में सेमेस्टर फीस माफ करने को लेकर छात्र संगठनों ने हंगामा किया था। विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एसएन मुंडा का घेराव भी किया था।

इस पर कुलपति ने आश्वासन दिया था कि उचित निर्णय लेंगे। इसी दिशा में विश्वविद्यालय प्रबंधन ने सेमेस्टर फीस में रियायत देने का निर्णय लिया। वहीं शेष सेमेस्टर के विद्यार्थियों की परीक्षा हो चुकी है। इसलिए उन्हें इसका लाभ नहीं मिलेगा।

शत प्रतिशत माफ करना संभव नहीं

कुलपति का कहना है कि कोरोना के इस दौर में शत प्रतिशत फीस माफ करना संभव नहीं है। प्रति सेमेस्टर विभिन्न विभागों के लिए अलग-अलग राशि तय है। उसी राशि में 10 फीसद माफ किया जाएगा। दूसरी ओर बीएड के विद्यार्थियों को इसका लाभ नहीं मिलेगा। जो विद्यार्थी फीस देने में असमर्थ हैं वे आवेदन देंगे तो उस पर विचार किया जा सकता है।

ऑनलाइन और ऑफलाइन होगी परीक्षा

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय ने अपने विद्यार्थियों का ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से परीक्षा लेने का फैसला लिया है। इस मामले में लगातार विशेषज्ञों की राय ली जा रही है।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस