रांची, राज्य ब्यूरो। केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह गुरुवार को टाना भगत  इंडोर स्टेडियम में आरंभ हो रहे दो दिवसीय ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड  समिट-2018 का उद्घाटन करेंगे। सूचना भवन में कृषि विभाग की सचिव पूजा सिंघल, उद्योग सचिव के रवि कुमार, रांची के उपायुक्तराय महिमापत रे और वरीय पुलिस अधीक्षक अनीस गुप्ता ने यह जानकारी दी।

पूजा सिंघल ने बताया कि राज्य में पहली बार एग्रीकल्चर एंड फूड समिट का आयोजन किया जा रहा है। अब तक 1800 डेलीगेट्स ने इसके लिए अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। इसमें इजरायल गए किसान भी शामिल होंगे। समिट के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू शामिल होंगी। राज्य से लगभग दस हजार किसान इस भव्य समारोह के साक्षी होंगे।

समिट में राज्य के सभी 24 जिलों के पैवेलियन बनाएं जाएंगे। दूसरे पैवेलियन में अन्य राज्यों के पैवेलियन बनाए जाएंगे। इस दौरान आउटडोर एक्जीबिशन में कृषि यंत्रों और अन्य तकनीक की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। लगभग 40 हजार वर्गफीट में प्रदर्शनी लगाई जाएगी। उद्घाटन समारोह में कई तरह के कार्यक्रम होंगे। दूर से आने वाले राज्य के किसान बुधवार से ही पहुंचने लगेंगे।

किसानों को ठहराने के लिए अच्छी व्यवस्था की गई है। इस दौरान चार सेक्टोरल सेमिनार का भी आयोजन किया जाएगा जिसमें आर्गेनिक खेती और कृषि यंत्र समेत अन्य विषयों पर चर्चा होगी। 30 नवंबर को विश्व बैंक के द्वारा टेक्निकल सत्र का आयोजन किया जाएगा।

कार्यक्रम में शिक्षाविद्, प्रमुख कृषि-चिंतक, शोधकर्ता, कृषि संस्थान  और विश्वविद्यालय, किसान समूह, केंद्रीय और राज्य सरकार के विभागों के गणमान्य व्यक्ति, प्रगतिशील किसान, कृषि व्यवसाय से संबंधित कंपनियां बीज कंपनियां, सिंचाई, उपकरण, खाद्य प्रसंस्करण वर्ग, वित्तीय संस्थान और छात्र भाग लेंगे।

समिट में अंतरराष्ट्रीय सत्र भी : उद्योग सचिव के रवि कुमार ने बताया कि दो दिवसीय सम्मेलन के दौरान अंतरराष्ट्रीय सत्र भी होंगे। जिसमें ट्यूनीशिया, चीन, इजऱायल, फिलीपींस और मंगोलिया जैसे देश सहयोगी देशों के रूप में शामिल हो रहे हैं। इसमें आयोजन का केंद्र मोरक्को देश है।

इस आयोजन में सहयोगी देश के सत्र भी होंगे जिन्हें कृषि और खाद्य क्षेत्र में सहयोग के संभावित क्षेत्रों पर चर्चा करने के लिए बुलाया गया है। इस सत्र में सहयोगी देशों से आए अतिथि प्रतिनिधिमंडल में भी शामिल होंगे। दो दिवसीय कार्यक्रम के दौरान एक विशेष सत्र विश्व बैंक का भी होगा जो राज्य को विश्व स्तर पर सर्वोत्तम कृषि सुविधाएं प्रदान करने में मददगार होगा।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम : रांची के उपायुक्त राय महिमापत रे और वरीय पुलिस अधीक्षक अनीस गुप्ता ने बताया कि प्रशासन के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। किसी को भी किसी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा। इसके लिए समेकित यातायात रूट भी तय किया गया है। 

सबका रख्‍ों ख्‍याल : समिट में राज्य भर से आने वाले किसानों का पूरा ख्याल रखा जाए। अधिकारी ध्यान रखें कि उन्हें किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। जिलों में भी किसानों को एक स्थान पर एकत्रित कर लाइव कार्यक्रम से रूबरू कराया जाए। रघुवर दास, मुख्यमंत्री

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप