रांची, जेएनएन। रांची में इलाज के दौरान पत्नी की मौत के बाद शव लेकर बिहार जा रहे सेवानिवृत्त वनपाल रामाधार ठाकुर की भी रविवार को सड़क दुर्घटना में मौत हो गई।

इस हादसे में उनके परिवार के आठ अन्य लोग भी घायल हो गए हैं। रामाधार ठाकुर के दामाद हटिया स्थित निफ्ट संस्थान में कार्यरत हैं। वहीं बेटा निर्मल कुमार चुटिया में रहते हैं।

बताया जाता है कि वनपाल की पत्‍‌नी इलाजरत राजमुनी देवी की मौत के बाद रामधार ठाकुर रांची हटिया से सपरिवार ट्रैवलर वाहन से बिहार के आरा जा रहे थे। इस दौरान रविवार की सुबह चौपारण थाना क्षेत्र के सांझ जीटी रोड पर पीछे से आ रहे ट्रक ने वाहन में टक्कर मार दी, जिससे वाहन अनियंत्रित होकर पलट गया।

दुर्घटना में रामाधार ठाकुर के अलावा परिवार के आठ सदस्य घायल हो गए। आनन-फानन में पहुंची चौपारण पुलिस की टीम ने सभी को वाहन से निकालकर इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा, जहां इलाज के क्रम में 70 वर्षीय रामाधार ठाकुर की मौत हो गई। पत्‍‌नी की मौत के बाद पति की भी मौत से पूरा परिवार गहरे सदमे में है।

वहीं घायलों में रामाधार ठाकुर के दोनों पुत्र निर्मल कुमार(38) व ओम प्रकाश ठाकुर (28), उनकी तीन बेटी बृज कुमारी, शीला देवी और शोभा देवी व दामाद नागेंद्र कुमार शामिल हैं। इनमें ओम प्रकाश को छोड़कर अन्य को प्राथमिक उपचार के बाद रिम्स रेफर कर दिया गया। वहीं दोनों नाती पप्पू कुमार व अनूप कुमार को भी चोट आई है।

सदर अस्पताल में इलाज के दौरान सांसद के स्वास्थ्य प्रतिनिधि नीरज कुमार ने घायलों को हरसंभव सहायता उपलब्ध करवाया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021