रामगढ़, जेएनएन। जिले के बासल थाना अंतर्गत मां पंचबहनी मंदिर के पास पुल के आगे फोरलेन सड़क पर सोमवार की अहले सुबह एक यात्री बस पलट गई। इसमें करीब आधा दर्जन यात्रियों को हल्की-फुल्की चोटें आई हैंं। इस दुर्घटना में बड़़ी संख्या में लोग बाल-बाल बच गए। बस पलटने से यात्रियों में अफरातफरी मच गई। बस पर सवार सभी यात्री खिड़की के शीशा तोड़ कर बाहर निकले।

जानकारी के अनुसार चुटुपालू घाटी में जाम होने के कारण बस पटना से रांची जा रही चंद्रलोक बस (बीआर 52 पी-1037) पतरातू- रामगढ़- बासल होते हुए रांची जा रही थी। इसी बीच अनियंत्रित होकर पलट गई। इस दुर्घटना में काफी संख्या में लोग बाल-बाल बच गए। बस पलटने से यात्रियों में अफरातफरी मच गई। बस पर सवार सभी यात्री खिड़की के शीशा तोड़ कर बाहर निकले।

इस दुर्घटना में करीब आधा दर्जन यात्रियों को हल्की-फुल्की चोटें आई है। यात्री नवनीत कुमार 38 वर्ष,अरविंद कुमार 29 वर्ष, मनीषा 25 वर्ष, आदि घायलों का इलाज पतरातू सरकारी अस्पताल में किया गया। इधर घटना की सूचना मिलते ही बासल पुलिस पहुंची और राहत कार्य शुरू किया। बस चालक और खलासी घटनास्थल से फरार हो गए। घटनास्थल पर काफी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ भी जमा हो गई। बासल पुलिस ने बस को अपने कब्जे में ले आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

चुटूपालू घाटी में गैस टैंकर पलटा

रांची-रामगढ़ के बीच स्थित चुटूपालू घाटी में रविवार की शाम इंडियन आयल कॉरपोरेशन (आइओसी) का एक गैस टैंकर पलट गया था। इससे गैस रिसाव होने पर प्रशासन ने रांची-पटना मार्ग (एनएच 33) पर आवागमन पूर्णत: रोक दिया। सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई है। जानकारी के मुताबिक गैस टैंकर (एचआर 38क्यू 7814) टाटा से हजारीबाग की ओर जा रहा था। इसमें चालक एवं खलासी दोनों जख्मी हो गए। इसके बाद  देर रात इस टैंकर से गैस का रिसाव तेज हो गया।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप