संवाद सूत्र, रजरप्पा(रामगढ़) : कई संगीन मामलों में वांछित कुख्यात रफीक अंसारी रजरप्पा थाना पुलिस के हत्थे चढ़ गया। वह लंबे समय से झारखंड के कई जिलों की पुलिस के लिए सिर दर्द बना हुआ था। बुधवार को पुलिस ने उसे उसके पैतृक घर सरायकेला से गिरफ्तार कर लिया।

गत 14 फरवरी 2019 को उसने अपने साथी के साथ मिलकर सीसीएल रजरप्पा प्रोजेक्ट के रिजनल स्टोर के होमगार्ड गणेश प्रसाद से मारंगमरचा के समीप मारपीट कर घायल करते हुए बाइक, सरेने का चेन व मोबाइल लूट लिया था। गुरुवार को रजरप्पा थाना में प्रेस वार्ता कर मुख्यालय डीएसपी प्रकाश सोय ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली कि कई कांडों के आरोपित रफीक अंसारी अपने पैतृक घर सरायकेला में है। उसे पकड़ने के लिए एक टीम का गठन किया। उक्त कांड के अनुसंधानकर्ता सअनि ललन कुमार ने कपाली ओपी, जिला सरायकेला खरसावां के सहयोग से उसके घर पर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया गया। उनसे पूछताछ की गई तो कई संगीन अपराध का इतिहास सामने आया। रफीक ने पुलिस को बताया कि पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में ट्रेन डकैती सहित झारखंड राज्य के सरायकेला, जमशेदपुर, रांची, बोकारो, रामगढ़ के विभिन्न थाना में कुल 19 लूट एवं डकैती कांडों में वह आरोपित है।वह कई बार जेल भी जा चुका है। पुलिस ने उसके पास से लूटा हुआ सामान बरामद भी किया। रफीक की गिरफ्तारी बड़ी उपलब्धी है। इससे क्षेत्र में अपराध पर लगाम लगेगा। मौके पर गोला सर्किल इंस्पेक्टर संजय कुमार गुप्ता, रजरप्पा थाना प्रभारी विपिन कुमार, सअनि ललन कुमार मौजूद थे।

Edited By: Jagran