मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रामगढ़ : सैनिक छावनी स्थित सिख रेजिमेंटल सेंटर के ड्रिल स्क्वायर में शनिवार को भव्य पासिग आउट परेड का आयोजन किया गया। इसमें सेंटर के 57 नव प्रशिक्षित जवानों ने राष्ट्रीय ध्वज तथा पवित्र गुरूग्रंथ साहिब को साक्षी मानकर मरते दम तक देश सेवा करने की शपथ ली। नव प्रशिक्षित जवानों ने रिक्रुट लखविन्दर सिंह के नेतृत्व में रेजिमेंटल बैंड की धुन के साथ कदम से कदम मिलाते हुए शानदार परेड का प्रदर्शन किया। इससे पूर्व मुख्य अतिथि सेंटर के डिप्टी कमाडेंट कर्नल सुषीम विश्वाने परेड की सलामी ली। परेड में सेंटर के दंडपाल ने नव प्रशिक्षित जवानों को शपथ दिलाई। मौके पर डिप्टी कमाडेंट ने नव प्रशिक्षित जवानों और उनके माता-पिता का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि वे अब भारतीय सेना का अभिन्न अंग बन गए हैं। जिसे प्रत्येक भारतीय को गर्व है। उन्होंने कहा कि आप सभी भारतीय सेना की वीरता की उच्च परंपरा के ऊंचे स्तर को कायम रखें। समारोह में प्रशिक्षण के क्रम में ट्रेनिग के दौरान आले दर्जे का प्रदर्शन करने वाले रिक्रुट को डिप्टी कमाडेंट ने पुरस्कृत किया। रिक्रुट नरेन्द्र सिंह को बेस्ट इन फिजिकल, रिक्रुट गुरसेवक सिंह बेस्ट इन बॉयनट फायटिग, रिक्रुट लखविन्दर सिंह को बेस्ट इन ड्रील, रिक्रुट कुलविन्दर सिंह को खन्ना मैडल (बेस्ट फायरर) एवं ओवरऑल सेकेंड बेस्ट रिक्रुट व रिक्रुट गुरप्रीत सिंह को ओवरऑल बेस्ट रिक्रुट का मेडल प्रदान किया गया। अंत में डिप्टी कमांडेंट, सैन्य अधिकारी, जेसीओ व जवानों ने सेंटर के युद्ध स्मारक पर फूल माला चढ़ाकर शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित की। परेड को देखने के लिए अधिकारी, जेसीओज, जवान, उनके परिवार के लोग तथा स्कूली बच्चे उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप