रामगढ़, जेएनएन। भुरकुंडा थाना अंतर्गत सयाल में सीसीएल कर्मी  सुबोध मिस्त्री 54 वर्ष की अज्ञात वाहन की चपेट में आने से मौत हो गई। सुबोध मिस्त्री सीसीएल बरका सयाल प्रक्षेत्र में बिरसा प्रोजेक्ट में कार्यरत थे। इधर सीसीएल कर्मी की मौत पर  मृतक के आश्रितों को नौकरी मुआवजा की मांग को लेकर  गुरुवार की सुबह सयाल टिना साइड डायवर्सन के पास लोगों ने रोड जाम कर दिया । सुबह सात बजे से रोड जाम दस बजे तक चला। इस दौरान दोनों ओर गाड़ियों की लंबी कतारें लग गई।

रोड जाम के कारण कोयला संप्रेषण ठप रहा। तीन घंटे तक रोड जाम के प्रबंधन द्वारा आश्रित को नौकरी और मुआवजा देने के लिखित आश्वासन के बाद जाम हटाया गया । वार्ता में तत्काल द्वारा प्रबंधन द्वारा मृतक के आश्रित को पचास हजार की राशि प्रदान की गई है। वहीं सीसीएल कर्मी सुबोध मिस्त्री की मौत पर उसके बेटे मनोज राणा द्वारा भुरकुंडा थाना में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है। बताया जाता है कि सयाल आजाद रोड निवासी सुबोध मिस्त्री उम्र 54 वर्ष बुधवार की रात्रि खाना खाने के बाद घर के बाहर टहलने निकले निकले थे।

काफी देर तक वापस नहीं आने पर जब घरवाले बाहर खोजने निकले तो नहीं मिले। गुरुवार की सुबह स्थानीय लोगों से जानकारी मिली टीना साइडिंग के पास अज्ञात गाड़ी के धक्के से सुबोध मिस्त्री की मौत हो गई है। भुरकुंडा पुलिस ने मामला दर्ज कर सुबोध मिस्त्री के शव को पोस्टमार्टम के लिए रामगढ़ भेज दिया है। वहीं सयाल क्षेत्र में सुबोध मिस्त्री की मौत पर चर्चाओं का बाजार भी है। सुबोध मिस्त्री पिछले 5 माह से लकवा से ग्रसित भी थे।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप