जाटी, मेदिनीनगर (पलामू) : पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर समेत पूरे जिलावासियों की रविवार की सुबह हल्की बारिश, कोहरा की चादर व शीतलहरी के बीच शुरू हुई। इससे दिनभर लोग ठिठुरते रहे। जनजीवन प्रभावित रहा। सुबह होते ही नजारा बदला-बदला दिखा। कोहरा के कारण सड़कों पर चलने वाले वाहनों की रफ्तार धीमी पड़ गई। कोहरा में वाहनों के लाइट के साथ-साथ इंडिकेटर जलने लगे। कई वाहन तो सड़क के किनारे खड़े मिले। शहर में भी लोग हेड लाइट जलाकर वाहन का परिचालन किया। कोहरे के साथ चल रही शीतलहरी ने ठंड को बढ़ा दिया है। रविवार को पलामू का न्यूनतम तापमान 13.6 व अधिकतम 23.6 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिक तापमान में आई गिरावट के कारण ठंड बढ़ गई है। इस कारण दिन के 10.30 बजे तक शहर व प्रखंडों की करीब अधिकांश दुकानें बंद दिखी। वैस रविवार छुट्टी का दिन होने के कारण व्यवसाय पर बहुत ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ा। बाजार में लोगों की भीड़ अपेक्षाकृत काफी कम दिखी। इधर लोग चौक-चौराहों पर अलाव तापते दिखे। लोगों का कहना है कि तीन दिनों से जारी शीतलहरी शनिवार की रात से रविवार सुबह तो हुई हल्की बारिश ने जाड़ा को हवा दे दिया है। इधर शहर में अलाव की व्यवस्था नहीं होने से यात्रियों व राहगीरों को परेशानी हुई।

क्या कहते हैं चिकित्सक

पलामू के पूर्व सिविल सर्जन डा.जान एफ कनेडी ने कहा कि ठंड के कारण बच्चों में कोल्ड डायरिया, निमोनिया, बुखार, सर्दी-खासी व अन्य लोगों में रक्तचाप में वृद्धि, लकवा आदि का प्रकोप बढ़ता है। ब्रेन हैमरेज का चांस है। बीपी व शुगर की दवा खाने वाले बुजुर्ग उसे रोके नहीं।

Edited By: Jagran