संवाद सूत्र, हैदरनगर,पलामू : सूबे के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने मंगलवार को चौकड़ी में 2. 41 करोड़ की लागत से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व झरी में 38. 81 लाख के उप स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन किया। मौके पर उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में जन्म भूमि होने व इसी क्षेत्र में पढ़ाई लिखाई करने के नाते उनका विशेष लगाव है। मौके पर हुसैनाबाद अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. एस के रवि को एसएचसी में सप्ताह में एक दिन चिकित्सक व नियमित एएनएम व स्वास्थ्य कर्मियों की सेवा व दवा की व्यवस्था करने का निर्देश दिया। कहा कि इन केंद्रों में स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना के तहत 57 लाख परिवार को जोड़ा गया है। उन्होंने गोल्डेन कार्ड बनवाकर लोग योजना के तहत चिन्हित अस्पतालों से किसी भी प्रकार की बीमारी का मुफ्त इलाज कराएं। पलामू मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल शुरु हो गया है। इससे 100 एमबीबीएस छात्रों की पढ़ाई भी शुरु होगी। दुमका व हजारीबाग में स्थापित कॉलेज का उद्घाटन जल्द होगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में एंबुलेंस व मुफ्त दवा की सुविधा दी गई है। डॉक्टरों की कमी दूर होगी। राज्य से निकले एमबीबीएस एक साल की अनिवार्य सेवा देंगे। इसका प्रावधान किया गया है। एमबीबीएस इस राज्य में सेवा नहीं देना चाहेंगे उन्हें 30 लाख रुपया सरकार को देना होगा। कहा कि आने वाली सरकार आपकी सरकार होनी चाहिए। इससे राज्य का पूरा विकास हो सकेगा। चौकड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उद्घाटन के मौके पर हुसैनाबाद के विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता, अनुमंडल पदाधिकारी कुंदन कुमार, एसडीपीओ विजय कुमार के अलावा डॉ. अशोक कुमार, विनोद कुमार, भाजपा नेता कामेश्वर कुशवाहा, कर्नल संजय कुमार सिंह, उमेश चंद्र शिव मंडल अध्यक्ष, जिला 20 सूत्री उपाध्यक्ष बिपिन बिहारी सिहं समेत आनंद कुमार बाबू, वेद प्रकाश शर्मा, अनिल चंद्रवंशी, अरविद दूबे सहित कई लोग शामिल थे।

बाक्स : अब तक नहीं हुआ है चौकड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पूरा हैदरनगर प्रखंड के चौकड़ी में स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्री चंद्रवंशी के जन्मस्थली पर बने स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन आनन-फानन में किया गया। इसका मुख्य कारण है कि एक माह बाद विधानसभा चुनाव को लेकर राज्य में आचार्य संहिता का भय सता रहा था। अब तक चौकड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पूरा भी नहीं हुआ है। स्वास्थ्य केंद्र में न तो चिकित्सक की व्यवस्था की गई है न ही किसी स्वास्थ्य कर्मी की। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि हुसैनाबाद अनुमंडलीय अस्पताल व हैदरनगर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ही चिकित्सकों की घोर कमी है। आखिर 2.41 करोड़ की लागत से बना चौकड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कौन चिकित्सक मरीजों को देखेंगे। हैदरनगर , मोहम्मदगंज प्रखंड क्षेत्र में तीन चिकित्सक हैं। अधौरा उपास्वास्थ्य केंद्र, मजुराहा उपास्वास्थ्य केंद्र व बेगमपुरा में एक एक चिकित्सक कार्यरत हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप