जागरण टीम, पाकुड़ : जिला मुख्यालय सहित जिलेभर में बुधवार को झमाझम बारिश हुई। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिल गई। दोपहर बाद आसमान में बादल छाए रहे। देर शाम तक बूंदाबांदी चलता रहा। हवा चलने से मौसम सुहाना हो गया। बुधवार की सुबह से ही आसमान में बादल छाए थे। करीब साढ़े आठ बजे के बाद हल्की धूप निकली। कुछ देर बाद धूप में तपिश बढ़ गई। गर्मी का असर भी बढ़ गया। लेकिन दोपहर बाद मौसम ने करवट ली। तेज हवा के साथ झमाझम बारिश हुई। इसके बाद लोगों ने राहत की सांस ली।

हिरणपुर : प्रखंड क्षेत्र में बुधवार को बूंदाबांदी बारिश हुई। इससे लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली। देर शाम तक आसमान में बादल छाए रहे। बारिश के कारण सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा।

लिट्टीपाड़ा में दोपहर बाद जमकर बारिश हुई। लोगों को गर्मी से राहत मिली। करीब एक घंटे से ज्यादा समय तक बारिश हुई। बारिश से सबसे अधिक फायदा आम को हुआ। खेतों से काटकर खलिहान में रखी गेहूं, चना, मसूर दाल के खराब होने की संभावना बढ़ गई है।

पाकुड़ियाप्रखंड क्षेत्र में तेज आंधी व बिजली गर्जना के साथ जमकर झमाझम बारिश हुई। बर्फबारी भी हुई। इससे मौसम सुहाना हो गया। लोगों ने राहत की सांस ली। लगातार दो घंटे से ज्यादा समय तक वर्षा हुई। इससे आम फल को फायदा हुआ।

महेशपुर में लगभग 30 मिनट तक जोरदार बारिश हुई। बारिश से पूर्व धूल भरी आंधी के कारण चारों तरफ गंदगी जम गया। बारिश से जहां उमस भरी गर्मी से लोगों को राहत मिली है, वहीं विद्युत व्यवस्था चरमरा गई। तेज आंधी के कारण विद्युत तार टूटने से विद्युत आपूर्ति ठप हो गई। विज्ञानिक डा. विनोद कुमार के अनुसार इस बारिश से जहां किसानों को लाभ हुआ है, वहीं ओले गिरने से आम, लीची तथा अन्य सब्जियों को नुकसान पहुंचा है।