सड़क सुरक्षा अभियान के तहत लोगों को किया जा रहा जागरूक

फोटो नंबर 11पीकेआर 17 में

रोहित कुमार, पाकुड़: ठंड का मौसम शुरू हो गया है। इस मौसम में वाहन चालकों के लिए कोहरे का कहर सबसे बड़ी मुसीबत होती है और वाहनों की रफ्तार धीमी पड़ जाती है। वहीं वाहन दुर्घटनाओं में वृद्धि हो जाती है। ऐसे में सतर्कता, सावधानी और सूझबूझ से ही जीवन की रक्षा की जा सकती है। सड़क सुरक्षा अभियान के तहत लोगों को इस दिशा में जागरूक भी किया जा रहा है। कोहरे से बचाव के उपाय-----------------------कोहरे के दिनों में फॉग लैंप, बीम लाइट, रेडियम स्टिकर्स, इंडीकेटर, डे-टाइम र¨नग लाइट्स (डीआरएल) लगाकर यातायात को सुगम बनाया जा सकता है। इसके बावजूद कोहरा के समय वाहनों की रफ्तार पर नियंत्रण होना जरूरी है। कोहरा में दुर्घटना से बचाव में रेडियम स्टिकर काफी मददगार होता है। वाहन के आगे व पीछे इसके लगे होने से आसानी से यह पता चल जाता है कि आगे कोई वाहन है। सड़क सुरक्षा अभियान से जुड़े लोग वाहनों को रोककर इस तरह का स्टीकर लगाते हैं। बाजार में उपलब्ध है कोहरे में कारगर लाइट

कोहरा में दृष्टि शक्ति बढ़ाने वाला फॉग लैंप, बीम लाइट बाजारों में उपलब्ध है। एक फॅाग लैंप की कीमत 500 से 1500 रुपये तक है। बीम लाइट 400 से 2000 रुपये में मिल रहा है। वहीं रेडियम स्टिकर भी 100 से 400 रुपये में मिल रहा है। कोहरा में वाहनों में अतिरिक्त हार्न भी लगाया जा सकता है, जिसकी कीमत 300 से 700 रुपये के बीच है।

कोट-------------कोहरा में फॉग लाइट का प्रयोग कारगर होता है। इन दिनों में लोगों को वाहन चलाने में अतिरिक्त सावधानी बरतने की जरूरत है। इससे दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सकेगा।

रवीन्द्र चौधरी, जिला परिवहन पदाधिकारी, पाकुड़

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस