Move to Jagran APP

Jharkhand News: लोहरदगा में एएसआई ने जमादार की गोली मारकर की हत्या, 11 घंटे की मशक्कत के बाद ऐसे हुआ गिरफ्तार

Jharkhand News in Hindi झारखंड के लोहरदगा में एक सिपाही अनंत सिंह मुंडा ने इंसास रायफल से गोली मारकर एएसआइ धर्मेंद्र सिंह की हत्या कर दी है। इस मामले में पुलिस ने आरोपित अनंत सिंह को रायफल के साथ गिरफ्तार कर लिया है। जवान को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को 11 घंटे से भी ज्यादा समय तक मशक्कत करनी पड़ी।

By Jagran News Edited By: Mohit Tripathi Fri, 07 Jun 2024 03:43 PM (IST)
लोहरदगा में जमादार की हत्या करने वाला रांची निवासी सिपाही गिरफ्तार। (सांकेतिक फोटो)

संवाद सूत्र, लोहरदगा। लोहरदगा जिला पुलिस बल के जवान अनंत सिंह मुंडा ने इंसास रायफल से गोली मारकर झारखंड पुलिस के सहायक अवर निरीक्षक (एएसआई) धर्मेंद्र सिंह की हत्या कर दी है। सिंह बिहार के पटना जिले के अलावलपुर फतेहपुर के रहने वाले थे।

इस मामले में पुलिस ने आरोपित रांची के सोनाहातू निवासी सिपाही अनंत सिंह को रायफल के साथ गिरफ्तार कर लिया है। जवान को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों को बुधवार रात से 11 घंटे से भी ज्यादा समय तक मशक्कत करनी पड़ी।

लोहरदगा पुलिस अधीक्षक के आवास के पीछे बुधवार की रात करीब साढ़े आठ बजे सीसीआर में प्रतिनियुक्त पुलिस का जवान (सिपाही) अनंत सिंह मुंडा ने लोहरदगा कोर्ट में प्रतिनियुक्त एएसआइ (जमादार) धर्मेंद्र सिंह की हत्या गोली मारकर कर दी थी।

घटना के समय अनंत अपने किराए के घर के अंदर अपनी पत्नी और बच्चों से झगड़ रहा था। वह चुनाव ड्यूटी से लौटा था और उसके पास इंसास रायफल के साथ 100 राउंड गोलियां थीं।

पड़ोस में रहने वाले एएसआइ धर्मेंद्र सिंह सिपाही अनंत सिंह को पत्नी से झगड़ता देख बीच-बचाव करने पहुंचे थे। उन्हें लगा कि मानसिक रूप से बीमार अनंत कहीं अपनी पत्नी और बच्चों को गोली न मार दे।

धर्मेंद्र सिंह ने अनंत की पत्नी और बच्चों को घर से सुरक्षित बाहर निकाला। इसके बाद जवान से रायफल लेने की कोशिश की। इसी दौरान जवान ने एएसआई के सीने में गोली मार दी। इसके बाद खुद को घर के अंदर बंद कर लिया।

सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक हारिस बिन जमां पुलिस और सीआरपीएफ की टीम के साथ पहुंचे और जवान को पकड़ने की कोशिश की। जवान के घर के अंदर ही जख्मी एएसआई भी पड़ा था।

जवान को पकड़ने के लिए रातभर पुलिस टीम परेशान रही। पुलिस ने आरोपित जवान के बिल्डिंग में फंसे हुए दूसरे पुलिसकर्मियों के परिवार को भी सुरक्षित बाहर निकाला।

यह भी पढ़ें: Jharkhand Election Result 2024: झारखंड में BJP का गेम किसने बिगाड़ा? अब राज से उठा पर्दा; सियासी हलचल हुई तेज

Jharkhand News: आवासीय स्कूलों की शिक्षिकाओं व कर्मियों के लिए बड़ी खबर! हर साल इतने प्रतिशत बढ़ेगा मानदेय