संवाद सहयोगी, लोहरदगा : जनता दल यूनाइटेड की कार्यकारिणी की बैठक रविवार को मिशन चौक के समीप हुई। जिसमें लोहरदगा जिले की गिरती अर्थव्यवस्था पर गहन विचार-विमर्श किया गया। मौके पर जदयू व्यापारी प्रकोष्ठ के गंगा प्रसाद ने कहा कि विगत छह माह से लोहरदगा की लाइफ लाइन के रूप में बॉक्साइट उद्योग बंद पड़े हैं। ट्रकों का परिचालन ठप है। मजदूरों को रोजी-रोटी के लाले पड़े हैं। इसपर चिता व्यक्त करने के बजाए मजदूर संगठन अपनी रोटी सेकने में लगे हैं। ऐसे में मजदूर संगठनों की लड़ाई में जिले की अर्थव्यवस्था दांव पर लगी हुई है। उन्होंने कहा कि हिडाल्को प्रबंधन से बात कर बंद पड़े ट्रक परिचालन को शीघ्र चालू कराने की दिशा में काम करते हुए जिले की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने का प्रयास करना चाहिए, परंतु जिले में ट्रक मालिकों के हितों की दिशा में काम करने वाले ट्रक एसोसिएशन सुसुप्त पड़ चुके हैं। ट्रक मालिकों की लड़ाई ढंग से लड़ने के लिए कोई तैयार नही है। हिडाल्को प्रबंधन पर दबाव बनाकर ट्रक परिचालन शुरू कराने के बजाए जिला के दो दिग्गज म•ादूर यूनियन वर्चस्व की लड़ाई में उलझे हुए हैं। मौके पर जदयू •िालाध्यक्ष रितेश कुमार ने कहा कि जिस प्रकार सरकार से रोजगार एवं विकास से बात करने पर पाकिस्तान से निपटने की बात कही जाती है। विकास एवं रोजगार से सरकार मुंह चुराते फिरती है। ठीक उसी तरह जिले के यूनियन अपने वर्चस्व की लड़ाई के चक्कर में ट्रक मालिकों, मजदूरों, ड्राइवर, खलासी इत्यादि को दो वक्त की रोटी से ही महरूम किया जा रहा है। बैठक में जदयू महासचिव पंकज साहू, उपाध्यक्ष त्रिपुरारी सिंह, सचिव प्रशांत कुमार खत्री, मनोज मिश्रा, कोषाध्यक्ष हेमंत कुमार साव, किसान मोर्चाध्यक्ष लोकेश प्रसाद, महिला मोर्चाध्यक्ष सीता श्रीवास्तव, आदिवासी मोर्चाध्यक्ष दीपक उरांव, अल्पसंख्यक मोर्चाध्यक्ष हातिम अंसारी इत्यादि समेत लगभग सौ सक्रिय कार्यकर्ता उपस्थित हुए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप