जागरण संवाददाता, लोहरदगा : लोहरदगा जिले में पर्यावरण संरक्षण को लेकर युवाओं की टोली एक संकल्प के साथ काम करती हुई नजर आ रही है। यहां पर अलग-अलग संगठन से जुड़े हुए युवा पौधारोपण को लेकर ऑक्सीजन है वरदान अभियान में पूरे उत्साह के साथ जुटे हुए हैं। वातावरण में कम होती ऑक्सीजन की मात्रा को लेकर हाल के समय में स्थिति और तस्वीर साफ होने के बाद युवाओं ने दूसरे लोगों को भी पौधारोपण के लिए प्रेरित करने का काम किया है। सैकड़ों लोगों के बीच पौधे बांटे भी गए हैं। खुद अलग-अलग क्षेत्रों में युवाओं ने पौधारोपण करने का काम किया है। शहर के अलग-अलग हिस्सों में और उपनगरीय क्षेत्रों में अब तक सैकड़ों पौधे लगाए जा चुके हैं। विभिन्न सामाजिक और धार्मिक संगठन से जुड़े हुए युवा हर दिन कम से कम दो से तीन घंटे का समय पौधारोपण के लिए दे रहे हैं। कोई पौधा लगा रहा है तो कोई उसकी घेराबंदी कर रहा है। जबकि कई युवा पौधों को पानी देने उनकी देखभाल करने के लिए जिम्मेवारी लिए हुए हैं। युवाओं का यह काम देख कर लोग काफी प्रशंसा कर रहे हैं। पौधारोपण के प्रति उनकी संवेदनशीलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि धरातल पर तो यह काम कर ही रहे हैं, इंटरनेट मीडिया के माध्यम से भी लोगों को पौधारोपण के लिए प्रेरित कर रहे हैं। जिसकी वजह से काफी संख्या में लोग पौधारोपण और पौधों के संरक्षण को लेकर आगे आए हैं। कई लोगों ने तो यहां तक संकल्प लिया है कि अब वह हर साल कम से कम दस पौधे जरूर लगाएंगे। यहां तक कि कई लोगों ने दूसरे लोगों से अनुरोध किया है कि यदि उनके पास खाली पड़ी जमीन है तो वह पौधा लगाने के लिए उन्हें उपलब्ध कराएं। वह अपने खर्च पर पौधा लगाएंगे और उसकी देखभाल भी करेंगे। पौधारोपण को लेकर शहर से गांव तक एक जुनून भी दिखाई दे रहा है। खासकर युवा वर्ग में पौधारोपण को लेकर उत्साह का माहौल है। हर दिन यह उत्साह बढ़ता ही जा रहा है। पूरे बरसात के दौरान युवाओं ने हजारों पौधे लगाने का संकल्प लिया है। कई युवाओं की टोली ने तो इसके लिए काम भी प्रारंभ कर दिया है। इनके द्वारा सैंकड़ों पौधे लगा भी दिए गए हैं। वन विभाग के माध्यम से पौधे उपलब्ध कराए जाने के बाद युवाओं की टोली पौधारोपण को लेकर आगे आ रहे हैं।

Edited By: Jagran