लातेहार : इन दिनों लातेहार जिले में घने कोहरे के कारण राहगीरों की परेशानी बढ़ गई है एवं वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगना शुरू हो गया है। बुधवार को सुबह के समय घने कोहरे के कारण लोग परेशान रहे। कोहरे के कारण सबसे ज्यादा परेशानी सुबह के समय कोचिग जाने वाले विद्यार्थियों को हुई। सड़क पर कम दिखाई देने से वाहन चालक लाइट जलाकर व बार-बार हार्न बजाकर चल रहे थे। सुबह 8 बजे से कुछ साफ होने लगा। अन्य दिनों की अपेक्षा ठंड अधिक रही, 10 बजे के बाद धूप निकली। बुधवार को न्यूनतम पारा 19.9 डिग्री सेल्सियस अधिकतम पारा में 22.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। फसलों को होगा लाभ :

वर्तमान में जो मौसम चल रहा है। इसमें पूर्वी हवा का जोर है। पश्चिमी हवाएं धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ रही हैं। पश्चिमी हवाओं के साथ शीत ऋतु का आगमन भी होगा। अभी कोहरा रहने के कारण तापमान में तेजी से उतार-चढ़ाव हो रहा है। शीत ऋतु में सर्दी अपने चरम पर होगी। यह मौसम खेती के लिए अनुकूल है। गेहूं की बोआई के लिए अच्छा है। सरसों, चना, मटर व अन्य चीजों के लिए भी ठीक है। जिनकी बोआई पहले हो चुकी है। कृषि वैज्ञानिक डॉ. अमरेश के अनुसार जो किसान अभी गेहूं की बोआई कर रहे हैं। उन्हें फायदा होगा। समय पर बोआई से अच्छी पैदावार होगी। देर से बोआई करने पर पैदावार पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। साथ ही जबर्दस्त कोहरा पड़े पर भी गेहूं समेत सभी चीजों पर इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है। कोहरे की मार से रेलवे परेशान :

ट्रेनों के विलंब से चलने के कारण यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कोहरे की समस्या के कारण इंजन चालक, स्टेशन मास्टर समेत रेल कर्मी परेशान हैं। कोहरे के कारण अब रेल पटरियों पर पटाखा व फॉग सिस्टम की मदद से रेल परिचालन कराने की तैयारी विभागीय कर्मियों ने की है। वहीं बसों के चालक भी फॉग लाइट अपने वाहनों में लगवा रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप