जागरण संवाददाता, लातेहार : लातेहार में एक विक्षिप्त ने अपने तीन साल के बेटा का ब्लेड से गला रेतने के बाद खुद फांसी लगाकर जान दे दी। मामला सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत बेंदी पंचायत के गोदना गांव का है। यहां रामू भुइयां ने मंगलवार की देर रात अपने तीन साल के बेटे बिदास भुइयां का ब्लेड से गला रेतने लगा, बच्चे चिल्लाया तो आसपास के ग्रामीण जुट गए। ग्रामीण बच्चे को इलाज के लिए लातेहार सदर अस्पताल ले गए, जहां प्राथमिक चिकित्सा के बाद उसे रांची रिम्स रेफर कर दिया गया। बुधवार को रिम्स में इलाज के दौरान बच्चे ने दम तोड़ दिया। वहीं, घटना के बाद घर में अकेले बचे रामू भुइयां ने घर बंद कर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। मामले की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में कर अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल लातेहार भेज दिया। स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि रामू कुछ वर्ष पूर्व विक्षिप्त हो गया था। रामू का बड़ा भाई खेती और मजदूरी करता है, उससे होने वाली आमदनी से ही घर की जीविका चलती है। ग्रामीणों ने बताया कि रामू की पत्नी बच्चे को छोड़कर दो वर्ष पूर्व ही यहां से चली गई है। ग्रामीणों ने बताया कि वह विक्षिप्त होने के बाद भी किसी को परेशान नहीं करता था। ग्रामीणों ने बताया कि रामू के पुत्र का इलाज कराने के बाद जब वे लौटे तो देखा कि रामू फांसी के फंदे से झुल रहा था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप