इस साल बेहद खास होगा आजादी का जश्न

संवाद सहयोगी, झुमरीतिलैया (कोडरमा): आजादी के अमृत महोत्सव यानी 75 साल पूरे होने के मौके पर इस बार जश्न ए आजादी बेहद खास होगा। साल 2022 की शुरुआत के साथ ही पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। अगस्त महीने में मनाए जाने वाला आजादी का अमृत महोत्सव देश भक्ति से ओतप्रोत होगा। बताते चले कि 11 से 17 अगस्त तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम मनाया जाएगा। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी यूजीसी ने इस अभियान से जुड़ने के लिए देशभर के सभी विश्वविद्यालयों को पत्र जारी कर दिया है। विश्वविद्यालय के कुलपतियों के साथ-साथ सभी कॉलेज के प्राचार्य को आग्रह पत्र भेजा गया है, जिसमें हर घर तिरंगा कार्यक्रम के प्रचार प्रसार के लिए शिक्षकों को दायित्व सौंपने की बात कही गई है। जगन्नाथ जैन महाविद्यालय की इग्नू विभाग की समन्वयक प्रो. संगीता बारला ने कहा कि शिक्षक छात्रों को प्रोत्साहित करेंगे कि वह अपने परिवार के सदस्यों के साथ अपने घर पर राष्ट्रध्वज लगाएं। घर-घर में राष्ट्रीय ध्वज लगाने का वीडियो भी कॉलेज और विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड करेंगे। इंटरनेट मीडिया माध्यम से उन्हें शेयर किया जाएगा। यूजीसी के यूनिवर्सिटी एक्टिविटी मॉनिटरी पोर्टल पर भी वीडियो शेयर किए जाएंगे। यूजीसी से जारी पत्र में कहा गया है कि उच्च शिक्षण संस्थान हर घर तिरंगा कार्यक्रम के आयोजन और छात्र और उनके परिवार को प्रोत्साहित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। हर घर तिरंगा कार्यक्रम से जुड़ी समस्त जानकारी अमृत महोत्सव और हर घर तिरंगा वेबसाइट पर उपलब्ध है। इस वेबसाइट पर जाकर छात्र और युवा ना सिर्फ आजादी के अमृत महोत्सव और हर घर तिरंगा कार्यक्रम से जुड़ी जानकारी हासिल कर सकेंगे, बल्कि आजादी के महत्व, आजादी की लड़ाई और फ्रीडम फाइटर्स के बारे में भी जानकारी हासिल कर सकेंगे। 11 से 17 अगस्त तक मनाए जाने वाले स्वतंत्रता सप्ताह से एक सप्ताह पहले विश्वविद्यालय और कॉलेज स्तर पर आजादी के अमृत महोत्सव से जुड़ी विविध प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। इसके माध्यम से हर घर तिरंगा कार्यक्रम को प्रोत्साहित किया जाएगा। नुक्कड़ नाटक, प्रभात फेरी जैसे आयोजन भी किए जाएंगे। ऐसे आयोजन के साथ ही यूजीसी ने आगाह भी किया है कि राष्ट्रीय ध्वज फहराने के दौरान फ़्लैग कोड का पालन किया जाए।

Edited By: Jagran