जयनगर (कोडरमा): सांसद, विधायक व जिला प्रशासन से गुहार लगाते-लगाते थक चुके ग्रामीणों ने आखिरकार जर्जर सड़क़ की खुद से मरम्मत की। रविवार को सतडीहा पंचायत के पंचायत समिति सदस्य सुरेश यादव के नेतृत्व में दर्जनों युवाओं ने अपने पैसे से जेसीबी और ट्रैक्टर लगाकर जर्जर सड़क में मिट्टी मोरम डालकर सड़ की मरम्मत कराई। इस दौरान पंचायत समिति सदस्य सुरेश यादव ने बताया कि पेठियाबगी चौक से सरमाटांड स्टेशन तक सड़क की स्थिति काफी दयनीय थी। एक माह पूर्व उक्त सड़क की मरम्मत पेठियाबागी चौक से इरगोबाद तक मरम्मत कराया गया। परंतु इरगोबाद के कुछ हिस्से के बाद सरमाटांड स्टेशन तक सड़क की मरम्मति नहीं हो पायी थी, यहां सड़क की हालत काफी दयनीय हो गई थी। इसके पूर्व भी उक्त सड़क में अक्तो नदी पर पुल निर्माण होने के बाद अप्रोच रोड भी नहीं बनाया गया था, जिसके कारण भी सड़क हालत काफी खराबा हो गई थी। कई बार ग्रामीणों ने उक्त सड़ की मरम्मति को लेकर उपायुक्त को लिखा गया, परंतु किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। अंत में नाराज और गुस्साये ग्रामीणों ने खुद से चंदा कर उक्त सड़क की मरम्मति करानी शुरू कर दी। सड़क मरम्मति कार्य में पंसस सुरेश यादव, चेहाल पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि गणेश राणा, शिक्षक रामकृष्ण यादव, बबूनी यादव, भीम रविदास, सहदेव रविदास, उमाशंकर यादव, प्रदीप राणा, विक्की राणा, दशरथ यादव, रामशरण पासवान, सुरेंद्र यादव आदि ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Posted By: Jagran