जागरण संवाददाता, खूंटी। एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा की गुप्त सूचना पर जिला पुलिस ने सोमवार की रात छापेमारी कर खूंटी से अफीम तस्करी के आरोपित जिला परिषद सदस्य पौलूस सोय को बिंदा से गिरफ्तार किया है।

एसपी ने बताया कि 17 जून, 2018 को दो लड़कियां अफीम की खेप के साथ मरचा मोड़ में पकड़ी गई थीं। दोनों सगी बहने हैं। पुलिस की पूछताछ़ में दोनों लड़कियों ने पौलूस सोय की अफीम होने की बात स्वीकार की थी। साथ ही, पीपुल्स लिब्रेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआइ) सुप्रीमो दिनेश गोप को अफीम पहुंचाने जाने की बात कही थी। दोनों का नाम शिलवंती कोनगाडी पिता इसदोर कोनगाड़ी व एग्रेनसिया कोनगाडी पिता सैमुल कोनगाडी है।

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार पौलूस सोय ने पूछताछ में अफीम की तस्कारी की बात को स्वीकार किया है। साथ ही, पीएलएफआइ सुप्रीमो दिनेश गोप से साठ-गांठ की बात की बात स्वीकार की है। उस पर रनिया थाना में एनडीपीएस एक्ट का मामला दर्ज है। पुलिस को उसकी बहुत दिनों से तलाश थी।

 

Posted By: Sachin Mishra