खंटी : रिलायंस मार्ट और मार्ट की तर्ज पर जिला मुख्यालय सहित दो जगहों पर पलाश मार्ट खोले जाएंगे। इनमें महिला स्वयं सहायता समूहों और जेएसपीएलपीएस द्वारा उत्पादित वस्तुओं की बिक्री होगी। पहला मार्ट खूंटी और दूसरा मार्ट तोरपा या कर्रा में खोला जाएगा। इससे महिलाओं के प्रयास से जेएसएलपीएस के उत्पादों को बाजार मिलेगा। यह बातें उपायुक्त शशि रंजन ने गुरुवार को अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित मासिक प्रेस कांफ्रेंस में कही। उन्होंने कहा कि महिलाओं की आय में वृद्धि होने से ग्रामीणों के जीवनस्तर में सुधार आएगा। उपायुक्त ने कहा कि अभी महिलाओं द्वारा बनाए गए सामानों को बेचने के लिए उन्हें मेला, साप्ताहिक हाट आदि का सहारा लेना पड़ता है। जिला प्रशासन पलाश मार्ट के माध्यम से महिलाओं के उत्पादों को अच्छा बाजार उपलब्ध कराएगा। उन्होंने कहा कि महिलाओं द्वारा उत्पादित वस्तुओं की ब्राडिंग पलाश के नाम से की गई है। डीसी ने कहा कि खूंटी में पलाश मार्ट के निर्माण के लिए स्थल चयन कर लिया गया है।

----

पर्यटनस्थलों का होगा विकास

डीसी ने कहा कि खूंटी जिले में कई मनोरम पर्यटन स्थल हैं। जिले के लतरातू डैम, पेरवाघाघ, लटरजंग डैम जैसे सभी प्रमुख स्थलों के विकास के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि लतरातु डैम को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का काम शुरू कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पर्यटन स्थलों की खतरनाक जगहों को चिह्नित किया जाएगा, ताकि किसी तरह की कोई दुर्घटना न हो। डायन बिसाही के नाम पर एक ही परिवार के तीन सदस्यों की नृशस हत्या के सवाल पर डीसी ने कहा कि यह बहुत ही निंदनीय और जघन्य घटना है। उन्होंने कहा कि डायन कुप्रथा पूर्णत: अंधविश्वास है और इसकी जड़ में अशिक्षा है। उन्होंने कहा कि डायन के नाम पर किसी को प्रताड़ित करने पर कड़ी सजा का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि यदि कहीं इस तरह की घटना होती है या होने की आशंका है, तो हर नागरिक की जिम्मेदारी है कि वह इसकी सूचना प्रशासन को दे। उन्होंने कहा कि इसके लिए सर्वे किया जा रहा है। डायन बिसाही के नाम पर एक ही परिवार के तीनों की नृशस हत्या के सवाल पर डीसी ने कहा कि यह बहुत ही निंदनीय और जघन्य घटना है। उन्होंने कहा कि डायन बिसाही पूर्णत: अंधविश्वास है और इसकी जड़ में अशिक्षा है। उन्होंने कहा कि डायन के नाम पर किसी को प्रताड़ित करने पर कड़ी सजा का प्रावधान है। उपायुक्त शशि रंजन ने स्थानीय मीडिया कर्मियों को सिविल सर्जन डॉ प्रभात कुमार से मिली जानकारी के आधार पर अप्रैल 2020 से सितम्बर 2020 तक के स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रमों और भौतिक उपलब्धियों से अवगत कराया। डीसी ने कहा कि कोरोना का दूसरा चरण आ सकता है। ऐसे में सभी को पूरी सावधानी बरतने की जरूरत है। प्रेस कांफ्रेंस में डीसी ने जिला ग्रामीण विकास अभिकरण, जिला योजना कार्यालय, आपूर्ति शाखा, जिला समाज कल्याण शाखा, जिला खनन कार्यालय, एनआरईपी, जल पथ प्रमंडल, भूमि सुधार उप समाहत्र्ता राजस्व शाखा, श्रम अधीक्षक कार्यालय, ग्रामीण विकास विभाग कार्य प्रमंडल, नगर पंचायत सहित पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल के कायरें की प्रगति एवं उपलब्धियों का क्रमवार विस्तृत ब्यौरा उपलब्ध कराया। प्रेस वार्ता में जिला सूचना एवं जन संपर्क पदाधिकारी माकिरण मुंडा भी उपस्थित थीं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021