जागरण संवाददाता, खूंटी : बिरसा कॉलेज, खूंटी का 58वां स्थापना दिवस गुरुवार को मनाया गया। लॉकडाउन के चलते स्थापना दिवस के अवसर पर कोई समारोह आयोजित नहीं किया गया। इस दौरान कॉलेज कैंपस में स्थापित बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया।

मौके पर कॉलेज की प्रभारी प्राचार्या डॉ. नेलन पूर्ति ने बताया कि वर्ष 1961 में तत्कालीन अनुमंडल पदाधिकारी और खूंटी के बुद्धिजीवियों के प्रयास से इस कॉलेज की स्थापना की गयी थी। दो जुलाई 1962 में रांची विश्वविद्यालय ने कॉलेज को मान्यता दी। मान्यता मिलने के पश्चात कॉलेज का पहला प्राचार्य डॉ. बीएन रॉय को बनाया गया था। इसके बाद से कॉलेज गतिशील अवस्था में अब तक चलायमान है। 58 वर्ष के इस सफर में इस कॉलेज से हजारों प्रतिभाएं निकलीं, जिन्होंने देश का नाम रोशन किया। स्थापना दिवस के अवसर पर डॉ. गुरुचरण साहू, श्रीमती जे. कीड़ो, राजकुमार गुप्ता, विजय प्रधान, घनेश्याम मिश्रा, सुरेन्द्र महतो, प्रकाश प्रमाणिक, सुखराम चुटिया पूर्ति, संदीप टूटी, हरीश कुमार, जयप्रकाश कुमार, कॉलेज छात्रसंघ अध्यक्ष भुवनेश्वर मुंडा, सचिव सौरभ कुमार साहू, अनुज कुमार, राजकुमार व विवेक आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस