करमाटांड़ (जामताड़ा) : करमाटांड़ प्रखंड के ईदगाह मोड़ बाजार में हल्की बारिश होते ही जर्जर सड़क पर कचरे व कीचड़ से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। करमाटांड़-मधुपुर मुख्य सड़क होने के कारण इस पथ से लोगों का आना-जाना लगा रहता है परंतु जर्जर सड़क के कारण लोगों का घर से निकलना मुश्किल है। लोगों ने स्थानीय विधायक डॉ. इरफान अंसारी से भी कई बार इस सड़क मरम्मत कराने की मांग किया पर पहल होना शेष है। ग्रामीणों ने बताया कि यह सड़क आठ साल से निर्माणाधीन है पर पूर्ण नहीं हुई। यह सड़क जामताड़ा से लेकर लहर जोड़ी तक बननेवाली थी जो अब तक अधूरी है। जिससे लोगों को जामताड़ा मुख्यालय के साथ विद्यासागर रेलवे स्टेशन जाने में भी काफी मशक्कत करना पड़ता है। इस सड़क से विधायक, मंत्री से लेकर जिले के वरीय पदाधिकारियों का आवागमन लगा रहता है इसके बदहाली पर किसी ने ध्यान नहीं दिया।

क्या कहते ग्रामीण : ईदगाह मोड़ सड़क जर्जर है और यह हाल आठ साल से है, जिससे ग्रामीणों को आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है पर कोई सुध लेने वाला नहीं है।

फिरोज शेख, ग्रामीण, करमाटांड़ ईदगाह मोड़

- फोटो न. 12

बाजार में व्याप्त गंदगी के कारण अब लोग नहीं आ रहे हैं। एक तो कोरोना महामारी के कारण दुकान समय से खुलती है ऐसे मे ईद जैसे महापर्व में भी ग्राहक गंदगी के कारण बाजार आने से बचते रहे।

सिकंदर अंसारी, दुकानदार, ईदगाह मोड़

फोटो न. 17

ईदगाह मोड़ जर्जर सड़क पर जिला प्रशासन से लेकर विधायक व मंत्री तक का ध्यान नहीं है। जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है।

भूदेव मंडल, ग्रामीण, ईदगाह मोड़ -- फोटो न. 16

इस सड़क मरम्मत की प्रक्रिया काफी दिनों से चल रही है परंतु निर्माण कार्य पूर्ण नहीं होने के कारण जिला मुख्यालय के साथ अन्य जगह जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

शोएब अंसारी, ग्रामीण, ईदगाह मोड़ -- फोटो न. 11