जामताड़ा : भाजपा की नगर इकाई यहां कांग्रेस के विधायक डॉ इरफान अंसारी के पीछ पड़ गई है। नगर अध्यक्ष राजेश यादव ने यहां बुधवार को प्रेसवार्ता कर विधायक पर जामताड़ा एवं नारायणपुर प्रखंड के कई स्थानों पर अवैध तरीके से स्थानीय लोगों एवं सरकारी जमीन पर कब्जा कर बीएड कॉलेज एवं पेट्रोल पंप खोलने का आरोप लगाया। जिला प्रशासन से जमीन से जुड़े सारे मामलों की जांच करने की मांग की।

यादव ने कहा कि विधायक ने नारायणपुर में सरकारी जमीन पर कब्जा कर करोड़ों की लागत से बीएड कॉलेज का निर्माण किया है। इस जमीन का पट्टा चौधरी मेहरा के नाम से निर्गत है। नारायणपुर के ठेकबहियार मौजा में विधायक ने पेट्रोल पंप का निर्माण किया। वहां गोचर जमीन पर अतिक्रमण किया गया है। जामताड़ा प्रखंड में भी गायछांद एवं दुलाडीह की बीच रानीबांध से सटे एक बड़ा भू भाग का घेराव किया है जिसमें भी स्थानीय पट्टेधारी की जमीन की जबरन घेराबंदी की गई है। जामताड़ा कोर्ट रोड में अपने मकान के पास सरकारी रास्ता का अतिक्रमण करने का आरोप लगाया है। आगे आरोप लगाया कि मधुपुर में भी होटल, इमारत व पेट्रोल पंप अवैध रूप से बनाया गया है। कहा कि इतनी अचल संपत्ति कहां से खड़ी की गई समेत सरकारी जमीन पर निर्माण की जांच करवाकर प्रशासन कार्रवाई करे। यादव के साथ गोउर बाउरी, बच्चू साह, राजेश कुमार, सुकुमार सर्खेल, मुकेश दुबे, प्रकाश दुबे, मनोज भंडारी आदि थे। -------------------

वर्जन:

विधायक इरफान अंसारी ने कहा कि स्थानीय बच्चों के हित में स्कूल व कॉलेज की स्थापना की है। वे समाज को देते हैं, लेते नहीं हैं। जमीन हड़पने, सरकारी व गोचर जमीन पर कब्जा करने, अवैध संपत्ति खड़ी करने आदि सारे आरोप बेबुनियाद हैं। नगर अध्यक्ष के पीछे जो व्यक्ति है वो खुद वारंटी है। वह रेलवे की बी ग्रेड जमीन पर गलत ढंग से मॉल बनवा रहा है।

- इरफान अंसारी, विधायक

Posted By: Jagran