जमशेदपुर, जेएनएन। कोल्हान विश्वविद्यालय के चौथे दीक्षा समारोह को लेकर रविवार को रजिस्ट्रार कार्यालय की ओर से एक नोटिस जारी किया गया है। इसमें सभी शिक्षक, उपाधि-प्रापक, सीनेट एवं सिंडिकेट के सदस्य को निर्देश दिया गया है कि वे सफेद कुर्ता - पायजामा में ही आएं। सफेद कुर्ता-पायजामा के बगैर उन्हें भी प्रवेश नहीं मिलेगा। इस नोटिस के संबंध में कोल्हान विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर डॉ. एके झा ने कहा कि नोटिस को वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। इस कारण दीक्षा समारोह में भाग लेने वाले शिक्षक इसका अवलोकन जरूर कर लें।
इधर 12 मार्च को होनेवाले दीक्षा समारोह को लेकर टाटा कॉलेज चाईबासा के बहुद्देशीय भवन में चेयर लगाने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। इस कार्य का निरीक्षण रजिस्ट्रार डॉ. एसएन सिंह, प्रॉक्टर डॉ. एके झा, वोकेशनल सेल के कोर्डिनेटर डॉ. संजीव आनंद ने किया। शोभा यात्रा के लिए स्थान तय किया गया। हॉल के प्रवेश द्वार के बांयी ओर चेंजिंग रूम बनाने को कहा गया। प्रॉक्टर डॉ. एके झा ने बताया कि 250 विद्यार्थी राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू का स्वागत करेंगे।
जनजातीय और क्षेत्रीय भाषा विभाग के छात्र करेंगे राज्यपाल का स्वागत
ये सारे विद्यार्थी कोल्हान विश्वविद्यालय के जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा विभाग के होंगे। इन विधार्थियों को प्रशिक्षित करने का कार्य प्रोफेसर कारु मांझी, मिशोन हेंब्रम, पी चाकी और सुभाष छत्रमुतवार की देखरेख में चल रहा है। स्वागत समिति के प्रोवीसी डॉ. रणजीत कुमार सिंह व डिप्टी रजिस्ट्रार डॉ. एके मिश्रा ने भी स्वागत के लिए आवश्यक सामग्री को एक जगह रखने का निर्देश वोलंटियर को दिया। स्‍मारिका का काम भी पूरा हो चुका है। विश्वविद्यालय ने दीक्षा समारोह के लिए कुल 100 वोलंटियर को प्रशिक्षित किया जा रहा है। वोलंटियर में टाटा कॉलेज चाईबासा के एनसीसी कैडेट, महिला कॉलेज चाईबासा के एनएसएस स्वयंसेवक तथा जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज की एमबीए की छात्राएं शामिल हैं। 

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप