जमशेदपुर, जेएनएन। Coronavirus Alert कोरोना वायरस शरीर में प्रवेश करने के बाद लगातार फैलता है। इसके संक्रमण से सामान्य सर्दी-जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ और निमोनिया जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

कोरोना का संक्रमण अधिकांश मामलों में खांसी, छींक, संक्रमित चीजों को छूने आदि से फैलता है। यह संक्रमण लार, चुंबन या फिर बर्तन शेयर करने से भी हो सकता है। यह संक्रमण फेफड़ों को संक्रमित करता है, इसलिए खांसते वक्त मुंह से निकलने वाली बूंदें सामने मौजूद व्यक्ति को संक्रमित कर सकती हैं। इस वायरस से संक्रमित होने के बाद इसके लक्षण दिखाई देने शुरू होते हैं। कोरोना वायरस के मरीजों में आमतौर पर जुकाम, खांसी, गले में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, बुखार जैसे शुरुआती लक्षण दिखाई देते हैं। एन-95 मास्क उन लोगों के लिए अधिक जरूरी है जो रोगी के संपर्क में आते हैं या फिर अस्पताल में रोगी का ख्याल रख रहे होते हैं।

ऐसी खबरें हैं पूरी तरह बेबुनियाद

कोरोना वायरस का संक्रमण का दायरा करीब दो मीटर है, इसलिए अगर आप किसी से दो मीटर की दूरी बनाकर मिलते हैं, तो आपको डरने की जरूरत नहीं है। ऐसी खबरें बिल्कुल बेबुनियाद हैं, जिनमें बताया जाता है कि अल्कोहल लेने से कोरोना वायरस खत्म हो जाता है। इसका सिर्फ और सिर्फ सैनिटाइजर के रूप में इस्तेमाल ही फायदेमंद है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए अपने हाथों को अच्छी तरह से साबुन या हैंड वाश से धोएं। अगर साबुन ना हो तो सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें।

-डॉ. अर्शी परवीन, महिला एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ, एमजीएम अस्पताल।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस