मुसाबनी : हिदुस्तान कॉपर लिमिटेड की केंदाडीह माइंस में मजदूरों ने 31 दिसंबर की रात्रि पाली से हड़ताल कर दिया। मजदूरों एवं प्रबंधन के बीच जीच कायम रहने के कारण यह हड़ताल 14 दिनों तक अनवरत जारी रही। 15 वें दिन मजदूर प्रतिनिधियों के साथ कंपनी प्रबंधन एवं केंदाडीह माइंस कोर कमेटी की वार्ता हुई। वार्ता में मजदूरों का कुछ मांग मान लिए जाने के बाद हड़ताल समाप्त करने की घोषणा मजदूर प्रतिनिधियों द्वारा शुक्रवार 14 जनवरी को किया गया था। मकर संक्रांति एवं रविवार होने के कारण मजदूर काम पर वापस नहीं लौटे थे। सोमवार को केंदाडीह माइंस में हड़ताल के 16वें दिन बाद मजदूर काम पर लौटे। पहली एवं दूसरी पाली में लगभग डेढ़ सौ मजदूरों ने माइंस में काम किया। काम पर लौटने के बाद जेएमएस माइनिग प्राइवेट लिमिटेड कंपनी प्रबंधन ने राहत की सांस ली है।

मांइंस में कार्यरत मजदूर अपने 15 सूत्री मांगों को लेकर आंदोलित थे। जिसमें रात्रि पाली में बिना भत्ता का काम नहीं करने एवं आकस्मिक एवं मेडिकल लीव की मांग की जा रही थी। साल में पांच आकस्मिक लीव एवं पांच मेडिकल लीव देने पर वार्ता में सहमति के बाद हड़ताल समाप्त घोषित किया गया था।

सालबनी गांव में मृतक के परिवार से मिले विधायक

संसू, गालूडीह : घाटशिला प्रखंड की बड़ाखुर्शी पंचायत अंतर्गत सालबनी गांव निवासी गोविद बेरा शनिवार को एनएच 18 पर हुई सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। घटना की सूचना पर सोमवार को विधायक रामदास सोरेन ने शोकाकुल परिवार से मिलने सालबनी गांव पहुंचे, पीड़ित परिवार से मिल कर जानकारी ली। परिजनों को ढांढ़स बंधाया, कहा इस दुख की घड़ी में हम परिवार के साथ है। विधायक रामदास सोरेन ने परिवार से मिलकर भरोसा दिया कि मृतक की पत्नी को पेंशन एवं पारिवारिक लाभ जल्द दिलवाया जाएगा। मौके पर कालीपद गोराई, प्रखंड अध्यक्ष वकील हेम्ब्रम, रतन महतो, जगदीश भकत, जिप प्रतिनिधि दुर्गा मुर्मू, उप प्रमुख श्रवण अग्रवाल, अजय महतो, भादो हांसदा, धीरेन महतो, लाखपति गिरी, अबनी महतो, बादल किस्कू, बबलू हुसैन, सचिन सरकार, मंगल मुण्डा, श्यामल बिषइ, सपन गिरी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran