जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। शुक्रवार को दोपहर में केंद्रीय खाद्य आपूर्ति मंत्री राम विलास पासवान के साथ प्याज की बढ़ती कीमतों को नियंत्रित करने को लेकर मंत्री सरयू राय ने बैठक की।

राम विलास ने आश्वस्त किया कि इस मामले में केंद्र राज्यों की हर संभव मदद कर रहा है। नॉफेड के माध्यम से प्याज का स्टॉक उपलब्ध कराना तथा अन्य देशों से प्याज का आयात करने की कार्रवाई हो रही है। उन्होंने कहा कि अगले दो सप्ताह के भीतर प्याज की कीमतें काबू में आ जाएंगी, क्योंकि प्याज उत्पादक राज्यों में प्याज की नई फसल इस बीच आ जाएगी।

सरयू राय ने राज्य में सरकार और प्रशासन द्वारा प्याज की कीमतों को नियंत्रित करने तथा प्याज के थोक और खुदरा भाव में अंतर को कम करने के लिए किए जा रहे उपायों से राम विलास को अवगत कराया। इस पर उन्होंने संतोष व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि प्याज की कीमतों में वृद्धि असमय बारिश की आपदा के कारण हुई है, जो तात्कालिक है। असमय बारिश से प्याज का पुराना स्टॉक बर्बाद हो गया है और नई फसल आने में विलंब हो गया है जो प्याज की कीमतों में तात्कालिक वृद्धि का कारण है। इस पर नियंत्रण के उपाय अवश्य सफल होंगे। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप