जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। भारत के सबसे पुराने अरबपति के बारे में आप जानते हैं। न टाटा, न बिरला और ना ही धीरुभाई अंबानी। ये हैं भारत के सबसे पुराने अरबपति। नहीं जानते हैं तो जान लीजिए। इनका नाम है पलोनजी शापूर जी मिस्त्री। शापूर जी मिस्त्री दुनिया के सबसे धनी पारसी व आयरिश भी हैं। पलोनजी शापूरजी मिस्त्री को बॉम्बे हाउस में फैंटम का उपनाम दिया गया है, क्योंकि उनके चारों ओर रहस्य की आभा है। 92 साल की उम्र में, एकांतप्रिय मिस्त्री सबसे पुराने भारतीय अरबपति बने हुए हैं। वह शापूरजी पल्लोनजी समूह के अध्यक्ष हैं, जिसके तहत कई कंपनियां हैं, लेकिन वे अपने निर्माण व्यवसाय के लिए सबसे ज्यादा जाने जाते हैं।

शापूरजी पलोनजी का गठन 1865 में हुआ था, और पल्लोनजी मिस्त्री एक निर्माण व्यवसाय (Construction Business) की देखरेख करते हैं जिसकी भारत, पश्चिम एशिया और अफ्रीका में उपस्थिति है। मिस्त्रियों ने लंबे समय से टाटा संस में हिस्सेदारी रखी है, जिसकी शुरुआत 1936 में पल्लोनजी के पिता के साथ हुई थी।

टाटा संस में सबसे अधिक हिस्सेदारी

पल्लोनजी 1980 में टाटा संस के बोर्ड में गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में भी शामिल हुए थे। Pallonji's Group की अब Tata Sons में 18.37% हिस्सेदारी है, जिससे वे सबसे बड़े शेयरधारक बन गए हैं। टेटली टी और जगुआर लैंड रोवर जैसे दुनिया के कुछ सबसे अधिक पहचाने जाने वाले ब्रांडों में पल्लोनजी की पकड़ है। पल्लोनजी के बेटे साइरस मिस्त्री के टाटा से बाहर होने के बाद से यह हिस्सेदारी विवाद का विषय रही है।

दुनिया भर में बनाई ऐतिहासिक इमारतें

शापूरजी पलोनजी इंजीनियरिंग और निर्माण व्यवसाय को मुंबई के साथ-साथ दुनिया के कई हिस्सों में कुछ ऐतिहासिक इमारतों का निर्माण करने का श्रेय दिया जाता है। इसमें मुंबई के फोर्ट क्षेत्र में विभिन्न बैंक, मुंबई में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, भोपाल में कोका कोला बिल्डिंग, ओमान में क़सर अल आलम पैलेस और जम्मू और कश्मीर में चेनानी नाशरी टनल शामिल हैं।

निर्माण व्यवसाय से परे भी बनाई पहचान

पल्लोनजी मिस्त्री ने निर्माण से परे ऊर्जा, पानी, वित्तीय सेवाओं और रियल एस्टेट जैसे क्षेत्रों में शापूरजी पल्लोनजी समूह का विस्तार किया। एसपी इंवेस्टमेंट एडवाइजर, शापूरजी पल्लोनजी फाइनेंस, यूरेका फोर्ब्स, एसपी ऑयल एंड गैस, एसपी रियल एस्टेट और एफकॉन्स इंफ्रास्ट्रक्चर इसकी कुछ समूह कंपनियां हैं। उनके बेटे साइरस और शापूर समूह के विभिन्न व्यवसायों के दिन-प्रतिदिन के संचालन में सक्रिय रूप से शामिल हैं।

रतन टाटा के सौतेले भाई से हुई बेटी की शादी

पलोनजी शापूरजी मिस्त्री बेटी आलू की शादी रतन टाटा के सौतेले भाई नोएल टाटा से हुई है। पालोनजी मिस्त्री पात्सी दुबाश से शादी करके एक आयरिश नागरिक हैं। उन्होंने 2003 में अपनी भारतीय नागरिकता छोड़ दी थी। यह उन्हें पारसी वंश के सबसे अमीर व्यक्ति होने के अलावा दुनिया का सबसे अमीर आयरिशमैन भी बनाता है।

लंदन, सरे और दुबई में अपना घर

पल्लोनजी के परिवार के पास लंदन, सरे और दुबई में घर हैं और पुणे में 200 एकड़ का स्टड फार्म है। वह ज्यादातर मुंबई में अपने समुद्र के सामने व्हाइट हाउस-शैली की हवेली में रहने के लिए जाने जाते हैं।

पलोनजी मिस्त्री को 2016 में भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

Edited By: Jitendra Singh