मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मुसाबनी, मुरारी प्रसाद सिंह। झारखंड के पूर्वी सिंहभूम के गुड़ाबांदा थाना इलाके के भालकी पंचायत के सुड़गी गांव के 40 वर्षीय अंतु टुडू को भालू ने हमला कर बुरी तरह से घायल कर दिया। अंतु टुडू डांगरा एवं पावड़ा पहाड़ी के जंगलों में महुआ और केंदू फल चुनने गया था। इसी समय भालू ने अंतु पर हमला बोल दिया। जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गया। भालू अंतु के चेहरे को नोंच कर खा गया।

घटना की सूचना ग्रामीणों को जब मिली तो ग्रामीणों ने घायल अवस्था में अंतू टुडू को धालभूमगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र इलाज के लिए ले गए। जहां से हालत ठीक नहीं होने के कारण उन्हें एमजीएम रेफर किया गया। यहां भी उनकी स्थिति में सुधार नहीं हो रहा था। एमजीएम से अंतू को टीएमएस में भर्ती कराया गया। जब ऑपरेशन करने की बात आई तो परिजन क पास पैसे नहीं थे। जिसके कारण परिजन उन्हें टीएमएच से वापस अपने गांव लेकर आ गए। इसकी जानकारी वन विभाग के वरीय पदाधिकारी को विधायक लक्ष्मण टुडू के माध्यम से दी गई। इस घटना पर मुख्यमंत्री कार्यालय ने भी संज्ञान लिया और मुसाबनी रेंजर पीके गोस्वामी को घायल युवक के इलाज के लिए उचित व्यवस्था करने को कहा गया।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने लिया संज्ञान

शनिवार की रात लगभग 12:15 बजे वन विभाग के अधिकारियों की टीम ने एक बारात गाड़ी को मुसाबनी में रोककर उसे अपने साथ सुड़गी ले गए। जहां से घायल युवक अंतू टूडू को साथ ले जाकर टीएमएच में फिर रविवार सुबह भर्ती कराया गया। मुसाबनी वन विभाग अधिकारियों ने 10 हज़ार नकद परिजनों को दिए और लगभग 40 हज़ार रुपया इलाज के लिए टीएमएच में जमा करवाया। अंतू का इलाज टीएमएच में चल रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि गुड़ाबांदा थाना क्षेत्र के डांगड़ा और पावड़ा पहाड़ पर भालू की आवाजाही बहुत दिनों से होती रही है। घायल अंतु को टीएमएच ले जाने में वन विभाग के सूर्य नारायण ठाकुर, सिको पासवान, समाजसेवी राहुल चटर्जी व वन रक्षी शामिल थे।

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप