जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : पहली बार घर में खेलने वाली मुंबई सिटी कमजोर समझे जाने वाली ओडिशा एफसी पर जीत दर्ज करने के इरादे से मैदान पर उतरेगी। मुंबई में होने वाले उक्त मुकाबले में ओडिशा एफसी पर भी जीत का दीदार करने का दबाव होगा।

मुंबई सिटी ने इस सीजन में अब तक अपने दोनों मुकाबले घर के बाहर खेले हैं। टीम ने अपने पहले मैच में केरला ब्लास्टर्स को 1-0 से हराया है जबकि दूसरे मैच में उसने चेन्नइयन एफसी के गोलरहित ड्रॉ खेला है। टीम चार अंकों के साथ तालिका में चौथे नंबर पर है।

आइसलैंडर्स के नाम से मशहूर यह टीम अब घर में विजयी शुरूआत करना चाहेगी। वहीं, ओडिशा एफसी को अब तक दोनों मैचों में हार का सामना करना पड़ा है और टीम को अभी पहली जीत की तलाश है। पहले दो मैचों में ओडिशा का डिफेंस अच्छा नहीं रहा है और टीम को चार गोल खाने पड़े हैं।

ओडिशा एफसी के कोच जोसेफ गोमबाउ ने कहा, हम परिणाम हासिल नहीं कर पाए। पहले मैच में हमसे पासेसिंग में कुछ गलती हो सकती है, लेकिन मुझे लगता है कि दूसरे मैच में हम खेल पर हावी रहे। छोटी-छोटी गलतियों के कारण हमने गोल खाए, लेकिन हमने खेल को अपने नियंत्रण में रखा और कई सारे मौके बनाए। मुझे लगता है कि टीम अच्छा कर रही है। हम शून्य अंक हासिल करने के लायक नहीं हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि टीम कल के मैच में अच्छा प्रदर्शन करेगी।

दूसरी तरफ मुंबई सिटी के कोच जॉर्ज कोस्टा ओडिशा की टीम को हल्के में नहीं ले रहे हैं।

कोस्टा ने कहा, ओडिशा एफसी जो पहले दिल्ली डायनामोज एफसी के नाम से थी, ने पिछले सीजन में काफी अच्छा खेल दिखाया था और कई सारे मौके भी बनाए थे। हमें उनका सम्मान करना चाहिए और मुझे पता है कि यह मैच आसान नहीं होगा।

उन्होंने कहा, मैं दो मैचों के बाद भी सौ प्रतिशत खुश नहीं हूं। हमें अभी भी कड़ी मेहनत और अच्छा प्रदर्शन करना है। मेरे खिलाड़ी रोजाना कड़ी मेहनत कर रहे हैं और वे एक साथ खुश रहते हैं। मुंबई के डिफेंडर माटो गर्गिक का इस मैच में खेलना तय नहीं है और कोच उनकी जगह पाउलो मकाडो को मैदान पर उतार सकता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप