जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : झारखंड के जमशेदपुर शहर का तापमान लगातार गिर रहा है। बीते 24 घंटे में 0.4 डिग्री सेल्सियस व एक सप्ताह में 5.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। तापमान गिरने से शहर में ठंड के साथ-साथ सर्द हवाएं व घने कोहरे से पूरे शहर घिर गया है। सुबह-शाम तो चलना मुश्किल हो गया है। लोग धीरे-धीरे सड़क पार कर रहे हैं। वहीं, गाड़ियां भी धीरे-धीरे चल रही है।

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को शहर का न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री सेल्सियस व अधिकतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, बीते सोमवार को शहर का न्यूनतम तापमान 7.2 था। वहीं, एक सप्ताह पूर्व यानी 15 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 12.0 डिग्री सेल्सियस था। इस तरह से तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है।

अभी एक सप्ताह छाया रहेगा कोहरा

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, इससे पूर्व वर्ष 2018 में 30 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज की गई थी।

26 दिसंबर के बाद बढ़ सकता है तापमान

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, शहर में अगले पांच दिन ठंड जस की तस रहेगी। अभी किसी तरह की राहत मिलने वाली नहीं है। हालांकि, 26दिसंबर के बाद न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी। इससे ठंड से थोड़ा राहत मिल सकती है। इधर, घने कोहरे की वजह से भी लोग परेशान हैं। सुबह-शाम चलना मुश्किल हो गया है। अगले एक सप्ताह तक घने कोहरा छाए रहेगा।

शीतलहर व बढ़ते ठंड को लेकर अलर्ट जारी, शहरवासी सतर्क रहें

 देश के विभिन्न राज्यों सहित झारखंड में भी शीतलहर व ठंड लगातार बढ़ रही है। इसे विभाग ने गंभीरता से लिया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अभियान निदेशक ने राज्य के सभी उपायुक्त व सिविल सर्जन को पत्र भेजकर अलर्ट किया है। उन्होंने कहा है किशीतलहर व ठंड से बचने के लिए भारत सरकार द्वारा प्राप्त पब्लिक हेल्थ एडवाइजरी का मार्गदर्शिका जारी की गयी है। वर्तमान में पूरे देश में शीतलहर की हवा चल रही है। ऐसे में झारखंड में भी विभाग व लोगों को सतर्क होने की जरूरत है। शीतलहर से होनेवाली स्वास्थ्य संबंधित दुष्परिणामों को ससमय बचाव, नियंत्रण तथा रोकथाम के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा प्राप्त प्रचार-प्रसार सामग्री को जनसमुदाय में जागरूक किया जाना महत्वपूर्ण है। इसे लेकर पूर्वी सिंहभूम जिले में कार्रवाई शुरू हो गई है। लोगों को ठंड से बचाव के लिए जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग व अक्षेस की टीम मिलकर काम कर रही हैं।

ठंड से बचाव के लिए सामान्य जानकारी व सलाह

यह अवश्य करें- जरूरत न हो तो ठंड में बाहर निकलने से बचें (विशेषकर वृद्ध व बच्चे)।

- पर्याप्त गर्म कपड़े पहनें।

- दस्ताने, जूते एवं मोजे का इस्तेमाल करें।

- आंखों को ठंड से बचाने के लिए बाहर निकलते समय चश्मे का इस्तेमाल करें।

- कमरे को गर्म रखने के लिए घर में अंगीठी, हीटर, ब्लोअर आदि का प्रयोग सावधानी से करें।

-खाने पर ध्यान रखें

- पर्याप्त भोजन कर बाहर निकलें।

- यथासंभव पानी पीएं।

- ठंडा खाना खाने एवं ठंडा पेय पदार्थ पीने से बचें।

- उच्च कैलोरी वाले भोज्य पदार्थ का सेवन करें।

बच्चों को ठंड से बचाव के लिए सलाह

- ठंड में बच्चों का विशेष ध्यान खरें। बच्चे को अधिक देर ठंड में न रहने दें।

- बच्चों के सर, चेहरा, गला एवं पांव को अच्छी तरह से ढंक कर रखें।

- बच्चों को एक के ऊपर एक कपड़े पहनाएं। यह उन्हें गर्म रखेगा।

- बच्चों के तापमान की जांच करते रहें।

ठंड में सभी को बचने की जरूरत है। अत्यधिक कंपकपी, बार-बार उल्टी या इच्छा होने, सुस्ती होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

- डॉ. एके लाल, सिविल सर्जन।

Edited By: Rakesh Ranjan