जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। करीब 40 वर्ष पुराना इंजन 140 टन का वजनी हेरिटेज लोको इंजन टाटानगर पार्सल विभाग के सामने दो क्रेन व 50 रेलकर्मियों की मदद से लगाया गया। 

इंजन को देखने उमड़ी भीड़

टाटानगर स्टेशन में इंजन शनिवार की रात को ही लाया गया था। सुबह से ही इस इंजन को देखने के लिए टाटानगर स्टेशन परिसर में भीड़ लगी हुई थी। रेलकर्मियों ने इस इंजन को पार्सल विभाग के पास बने ट्रेक पर बिठाया। 

सायरन बजा कर किया जा रहा था अलर्ट 

टाटानगर स्टेशन परिसर में इन गेट से टाटानगर स्टेशन के मुख्य द्वार तक किसी भी यात्री को जाने की इजाजत सुबह 8.30 बजे से शाम चार बजे तक नहीं थी। इस दौरान यहां घेराबंदी भी की गई थी। वहीं एक रेलकर्मी द्वारा सायरन बजा कर यात्रियों को अलर्ट किया जा रहा था ताकि वे इन गेट की ओर नहीं आए। जैसे ही कोई यात्री इन गेट की तरफ आ रहा था तुरंत सायरन बजाया जा रहा था। रेलवे के सीनियर डीईई, क्षेत्रीय प्रबंधक, स्टेशन निदेशक, एइएन समेत इंजीनियङ्क्षरग विभाग के 13 अधिकारियों के देखरेख में हेरिटेज लोको इंजन टाटानगर में लाया गया था।

आकर्षण का केंद्र बना रहा 40 वर्ष पुराना इंजन

टाटानगर स्टेशन में रविवार को 40 वर्ष पुराने इंजन को मॉडल इंजन के रुप में लगाया जा रहा था। यह इंजन यात्रियों के लिए आकर्षण के केंद्र बना हुआ था। सैकड़ों की संख्या में यात्री इस इंजन को देख रहे थे। पार्किंग के पास, सेकेंड इंट्री के पास खड़े होकर व बैठकर यात्री इंजन को लगाते हुए देख रहे थे। 

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप