जमशेदपुर, जासं। पिछले डेढ़ साल से पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। लोग घरों में कैद हैं, अनलॉक होने से लोग बाहर आने-जाने लगे हैं, लेकिन बच्चे अभी भी घरों में ही कैद हैं। खेल के मैदान नहीं खुले हैं। गार्डन भी बंद है। स्कूल बंद होने से बच्चे अपने दोस्तों से भी नहीं मिल पा रहे हैं। इस तरह से उनकी दिनचर्या पूरी तरह से बदली हुई है।

अभी भी बच्चों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए उनकी इम्यूनिटी पर ध्यान देने की जरूरत है। इसके लिए बच्चों को योग से जोड़ना बेहतर विकल्प है। उन्हें छोटी उम्र से ही योग से जोड़ना चाहिए। शहर की जानी-मानी योग व रेकी विशेषज्ञ पूनम वर्मा कहती हैं, कोरोनाकाल में हर उम्र के लोगों को मानसिक, शारीरिक और आर्थिक नुकसान हुआ है, लेकिन जिन पर सबसे ज्यादा असर पड़ा है वो हैं बच्चे। ऐसे में यदि आप योग को अपने बच्चों की जिंदगी का हिस्सा बना दें तो वे ताउम्र हेल्दी और फिट रहेंगे।

क्यों जरूरी है योग

  • अनहेल्दी लाइफस्टाइल और जंक फूड के चलते बच्चों में मोटापे की समस्या आम होती जा रही है। ऐसे में अगर आप अपने बच्चों को भुजंगासन सिखाते हैं तो उन्हें ये फिट रखने में मदद करेगा। इस योगासन के नियमित अभ्यास से पेट की मांसपेशियों में खिंचाव होता है जो मोटापे की समस्या को कम करता है। इसी तरह से बच्चों को योग के शुरूआती दिनों में प्राणायाम, बालासन, ताड़ासन, वृक्षासन, शवासन, धनुरासन, सुखासन कराना चाहिए।

    बच्चों के लिए इसलिए जरूरी है योग

  • योग शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ बनाता है।
  •  योग बच्चों का आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करता है।
  • बच्चों का स्ट्रेस कम कर उन्हें स्ट्रॉन्ग बनाता है।
  • बीमारी से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है योग।
  • बच्चों का इम्यून सिस्टम बनाता है स्ट्रॉंग।

    ध्यान और एकाग्रता के लिए योग बेहतर है

  • बच्चों में पॉजीटिविटी लाने में योग है मददगार।
  • शरीर का लचीलापन बढ़ाता है योग।

    बच्चों को ऐसे रखें संक्रमण से दूर

  • बच्चों में मास्क पहनने की आदत डलवाएं।
  • बच्चे फल व सब्जियों का अधिक सेवन करें।
  • इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए मल्टी विटामिन दें
  • खाने में हल्दी व अदरख का प्रयोग जरूरी है

    ये कहतीं योग विशेषज्ञ

    कोरोना का खौफ दूर करने में योग बड़ा हथियार है। यह विषम परिस्थितियों में लड़ने में मदद करता है। कोरोना काल में मानसिक स्थिति को मजबूत करने में योग बड़ा काम आया। इसके विविध आसन से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के अलावा स्वास, हृदय, फेफड़े, लिवर, पेट की समस्या भी दूर हुई ।

    -योग व रेकी एक्सपर्ट पूनम वर्मा

 

Edited By: Rakesh Ranjan