जासं, जमशेदपुर : टाटा स्टील की अनुषंगी इकाई, टाटा स्टील यूटिलिटीज एंड इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज (पूर्व में जुस्को) के कर्मचारियों को वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए अधिकतम 2,21,620 रुपये मिलेंगे। सोमवार को कंपनी प्रबंधन, जुस्को श्रमिक यूनियन से बिना किसी वार्ता के कर्मचारियों के बैंक खाते में सीधे बोनस की राशि भेज देगी।

जुस्को कर्मचारियों को वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए फार्मूले के आधार पर छह करोड़ 88 हजार 620 रुपये मिलेंगे। जुस्को श्रमिक यूनियन में समय पर चुनाव नहीं होने के कारण उसकी कानूनी वैधता समाप्त हो चुकी है। ऐसे में कंपनी प्रबंधन बिना यूनियन से बोनस पर वार्ता किए इस वर्ष कर्मचारियों के खाते में सीधे बोनस की राशि भेजने का निर्णय लिया है। हालांकि यूनियन अध्यक्ष राकेश्वर पांडेय व महामंत्री वीडी गोपाल ने रविवार शाम अपने बिष्टुपुर स्थित कार्यालय में प्रेसवार्ता कर कहा कि चुनाव बाद वे जरूर बोनस पर प्रबंधन से बात करेंगे। यूनियन नेतृत्व को उम्मीद थी कि यदि वे बोनस पर प्रबंधन से वार्ता करती तो स्वच्छ भारत अभियान व सेफ्टी मद में 17 से 20 लाख रुपये तक बढ़ा सकती थी। वहीं, यूनियन नेतृत्व का कहना है कि अगले वर्ष के लिए वे चुनाव बाद नए बोनस फार्मूले पर प्रबंधन से वार्ता करेगी।

------

पिछले वर्ष से कम मिले 97 लाख

जुस्को कर्मचारियों को वित्तीय वर्ष 2018-19 में 6.97 करोड़ रुपये बोनस मिला था लेकिन फार्मूले के आधार पर कर्मचारियों को इस बार छह करोड 88 हजार 620 रुपये ही बोनस मिल रहा है जो पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 97 लाख रुपये कम है। यूनियन नेतृत्व का कहना है कि बोनस के लिए सर्विस लेवल गारंटी (एसएलजी), प्रोफिट बिफोर टेक्स (पीबीटी), पावर लॉस, वॉटर लॉस, ग्राहक संतुष्टि, दोबारा शिकायत, उत्पदकता, टोटल प्रोडक्टिविटी मैनेजमेंट (टीपीएम) व सेफ्टी के आधार पर बोनस की राशि तय की जाती है।

---

आर्थिक मंदी का बोनस पर पड़ा असर

अध्यक्ष रघुनाथ पांडेय व महामंत्री वीडी गोपाल का कहना है कि बीएस-6 के कारण आई मंदी का असर जुस्को कर्मचारियों के बोनस पर पड़ा। आदित्यपुर औद्योगिक क्षेत्र की कंपनियां बंद होने से बिजली की आपूर्ति में काफी कमी आई जिससे कंपनी को घाटा हुआ। कंपनी ने वर्ष 2018-18 में जहां 59 करोड़ रुपये का मुनाफा अर्जित किया था वह आलोच्य अवधि में घटकर 44 करोड़ रुपये (15 करोड रुपये कम) हो गए। इसका सीधा असर कर्मचारियों के बोनस पर पड़ा। वहीं, सेफ्टी में तीन इंज्यूरी ऑन व‌र्क्स (आइओडब्लयू) व इंज्यूरी ऑन ड्यूटी (आइओडब्ल्यू) के तीन मामले हुए। इसके कारण भी कर्मचारियों के बोनस पर असर पड़ा है।

----- कर्मचारियों को बोनस के रूप में एकमुश्त राशि मिल रही है। सभी इसका इस्तेमाल बच्चों की पढ़ाई, भविष्य की बचत और घर बनाने में करें।

-रघुनाथ पांडेय, अध्यक्ष

-----

बोनस पर प्रबंधन ने जो पहल की है वह सराहनीय है। फार्मूले के कई लक्ष्य को हमने सफलतापूर्वक लगभग पूरा कर लिया था। लेकिन इसमें प्रबंधन से बात करने की गुंजाइश थी।

-वीडी गोपाल कृष्णा, महामंत्री

------

बोनस पर एक नजर

-जुस्को में 751 कर्मचारियों को मिलेगा बोनस

426 कर्मचारी टाटा स्टील से तबादला से आए

कर्मचारी ग्रेड में 1,66,877 रुपये मिलेगा अधिकतम बोनस

2,21,620 रुपये है सुपरवाइजर ग्रेड में अधिकतम राशि

----

जेएस ग्रेड में

63,441 रुपये मिलेगा अधिकतम बोनस

23,560 रुपये मिलेगा न्यूनतम

------

जेडब्ल्यू ग्रेड

45,129 रुपये मिलेगा अधिकतम

39,80,73 हजार रुपये है कर्मचारियों का बोनेसेबल राशि

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस