जेएनएन, जमशेदपुर/चांडिल : सरायकेला खरसावां जिले के कपाली नगर परिषद चुनाव के दौरान सोमवार को ईवीएम से तीर के रहते धनुष गायब देख कर झामुमो प्रत्याशी परवेज आलम और उनके समर्थक हंगामा करने लगे। निर्वाचन उपायुक्त छवि रंजन की सिफारिश पर राज्य निर्वाचन आयोग ने यहां उपाध्यक्ष पद का चुनाव रद कर दिया है। आयोग द्वारा नई तिथि तय करने के बाद दोबारा मतदान कराया जाएगा।

कपाली क्षेत्र में जैसे ही सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ हर बूथ पर हंगामा होने लगा। उपाध्यक्ष पद पर झामुमो के उम्मीदवार परवेज आलम को वोट देने गए मतदाता बिना मतदान किए बूथ से बाहर आने लगे। उन्होंने बाहर खड़े कार्यकर्ताओं को बताया कि झामुमो के उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी का चुनाव चिह्न तीर-धनुष नहीं है। बात झामुमो नेताओं तक पहुंची तो बूथों पर हंगामा शुरू हो गया। कार्यकर्ताओं के हंगामे के चलते वोटिंग बंद हो गई। उम्मीदवार परवेज आलम खुद पुरानी टीओपी के सामने बूथ नंबर सात मेरी स्कूल पर पहुंच गए। सूचना एसडीओ भागीरथ प्रसाद को दी गई। एसडीओ मौके पर पहुंचे तो कार्यकर्ताओं ने घेर लिया। एसडीओ ने पहले तो मामले को टालना चाहा। वे बोले कि ठीक है मतदान होने दीजिए, बाद में देखा जाएगा। इस बात पर झामुमो कार्यकर्ता भड़क उठे। उम्मीदवार परवेज आलम ने मामले की सूचना फौरन उपायुक्त छवि रंजन को दी। उपायुक्त ने राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों से बात की। इसके बाद उपाध्यक्ष का मतदान निरस्त करने की घोषणा की गई। साढ़े नौ बजे उपाध्यक्ष पद का मतदान निरस्त होने के एलान के बाद कपाली में सभी बूथों पर वोटिंग शुरू हुई।

-------

झामुमो ने लगाया साजिश का आरोप

ईवीएम में सही चुनाव चिह्न दर्ज नहीं होने को झामुमो ने गहरी साजिश बताया है। पार्टी नेता मो. असलम ने कहा कि आखिर चुनाव प्रक्रिया में अधिकारियों की निगाह रखती है। कई स्तर पर अधिकारी निगरानी रखते हैं। दस्तावेज चेक किए जाते हैं। ऐसे में चुनाव निशान कैसे गड़बड़ हो गया। इसकी जांच होनी चाहिए।

------

अध्यक्ष पद पर भी पड़ा चुनाव चिह्न में गड़बड़ी का असर

झामुमो नेताओं ने आरोप लगाया कि उपाध्यक्ष पद के चुनाव चिह्न तीर-धनुष में गड़बड़ी का असर अध्यक्ष पद पर भी पड़ा है। झामुमो के अकरम खान का कहना था कि कपाली में हर तरफ अफवाह फैल गई कि झामुमो के चुनाव चिह्न में गड़बड़ी है। उपाध्यक्ष पद का मतदान रद हो गया है। इसे लेकर जनता दुविधा में पड़ गई। ऐसे में अध्यक्ष पद पर उनके कई मतदाता दुविधा के चक्कर में भटक गए।

----

कांग्रेस ने की पूरा चुनाव रद करने की मांग

चुनाव रद किए जाने के बाद काग्रेस और निर्दलीय उम्मीदवारों ने कपाली के 16 नंबर मॉडल बूथ के सामने हंगामा किया। उन्होंने पूरी चुनाव प्रक्रिया को ही रद करने की मांग की। कांग्रेस के उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार सरवर आलम ने कहा कि पार्टी ने अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए प्रचार एकसाथ किया था। साजिश के तहत उपाध्यक्ष का चुनाव रद किया गया है। उन्होंने पर्यवेक्षक से कहा कि दोबारा सिर्फ उपाध्यक्ष का चुनाव होने पर बहुत सारे मतदाता वोट देने नहीं आएंगे। इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि पूरे चुनाव को रद कर अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद का चुनाव एकसाथ कराया जाए। हालांकि पर्यवेक्षक और निर्वाची पदाधिकारी ने उनकी दलील को खारिज कर अध्यक्ष पद के लिए मतदान जारी रखा।

---

By Jagran