जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। भाजपा विधायक दल के नेता व पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा कि जमशेदपुर के लोग निराश ना हों, जुबिली पार्क खुलेगा। मैंने जुस्को के एमडी से बात की है। उन्होंने ये बातें परिसदन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कही। इससे पहले उनसे जुबिली पार्क के मुद्दे पर संघर्षरत संस्था नागरिक सुविधा मंच के संयोजक शशि मिश्रा व अन्य मिले थे।

इससे पहले मरांडी ने हेमंत सरकार पर कहा कि यह सरकार काम से ज्यादा कमाने की चिंता कर रही है। हेमंत सरकार के 20 महीने के शासन में प्रदेश में 2800 बहन-बेटियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं हुईं। पूरे प्रदेश में अव्यवस्था और अराजकता का माहौल है, अपराधी बेखौफ होकर अपराध कर रहे हैं, प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है। 20 माह में कोई उपलब्धि नहीं दिखी है। अक्षम अधिकारियों को प्रोन्नति और मनचाही पोस्टिंग मिलती है। पलामू में जिस पुलिस अधिकारी की मिलीभगत से 10 लाख रुपए फिरौती लेकर अपराधी दो लोगों की हत्या कर देते हैं, उसी पुलिस अधिकारी को धनबाद जैसे संवेदनशील जिले की जिम्मेदारी सौंप दी जाती है। प्रदेश में वकील, जज, पत्रकार, महिलाएं कोई खुद को सुरक्षित अनुभव नहीं कर रहा है।

कोरोना के बहाने जिम्मेदारी से भाग रही सरकार

बाबूलाल ने हेमंत सरकार पर कोरोना के नाम पर जिम्मेदारियों से भागने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कोरोना के बहाने पूरे प्रदेश में योजनाएं कछुए की चाल से चलाई जा रही है। कई कल्याणकारी योजनाओं को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। सरकार का स्वास्थ्य सेवाओं पर कोई ध्यान नहीं है। मीडिया सरकार को आईना दिखाए तो बंद हो जाते हैं विज्ञापन बाबूलाल मरांडी ने कहा कि सरकार के विरोध में उठने वाले आवाज को दबाने की कोशिश की जाती है। आज हेमंत सरकार के विरोध में कोई मीडिया संस्थान आवाज उठाती है तो उनके विज्ञापन पर रोक लगा दी जाती है। पूरे प्रदेश में भाजपा कार्यकर्ता सरकार की हर गलत नीति और तानाशाही रवैये के खिलाफ सड़क पर उतरने को तैयार है। प्रेस वार्ता के दौरान सांसद विद्युत वरण महतो, भाजपा प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी, भाजपा महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष अभय सिंह, जिला महामंत्री अनिल मोदी व जिला मीडिया प्रभारी प्रेम झा उपस्थित थे।

Edited By: Rakesh Ranjan