जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लिगा के लब्ध प्रतिष्ठित टीमों में शुमार एटलेटिको डि मैड्रिड के साथ जमशेदपुर एफसी करार करने जा रहा है, जिसके तहत स्पेनिश टीम तकनीकी सुविधाओं के अलावा कोच भी उपलब्ध कराएगा। गौरतलब है कि 2014 में एटलेटिको डि मैड्रिड ने इंडियन सुपर लीग में खेलने वाली एटीके के साथ करार किया था। 2017 में दोनों के बीच विवाद होने के बाद स्पेनिश क्लब ने करार खत्म कर लिया था।

एटलेटिको डि मैड्रिड से करार करने के बाद जमशेदपुर एफसी को प्री सीजन अभ्यास के लिए कही और भटकना नहीं होगा। पहले सीजन में जमशेदपुर एफसी ने बैंकाक में अभ्यास किया था, जबकि इंडियन सुपर लीग में खेलने वाली अधिकतर टीमों ने स्पेन की ओर रूख किया था।

एटलेटिको डि मैड्रिड के अधिकारियों का मानना है कि भारत व चीन फुटबॉल का एक बड़ा बाजार हो सकता है। यही कारण है कि एटीके से करार खत्म होने के बावजूद वह जमशेदपुर एफसी से हाथ मिलाने को आतुर है। करार हो जाने के बाद तीन से 12 वर्ष के खिलाड़ियों को यूरोपियन कोच से फुटबॉल के गुर सीखने का मौका मिलेगा। जमशेदपुर एफसी के पास अपना आधारभूत संरचना है। खुद का स्टेडियम होने के साथ साथ टाटा फुटबॉल अकादमी जैसा प्रतिष्ठित अकादमी है।

इस करार की आधिकारिक घोषणा जल्द की जाएगी। जमशेदपुर एफसी के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आने वाले सीजन में मेन ऑफ स्टील की कोचिंग का जिम्मा कोई स्पेनिश कोच ही संभालेगा। अभी भी चार विदेशी खिलाड़ी का जगह खाली है। ऐसे में आक्रमण पंक्ति का जिम्मा स्पेनिश खिलाड़ी ही संभालेंगे।

2014 में एटीके के साथ करार के बाद बार्सिलोना व लीवरपूल के स्टार खिलाड़ी लुईस गार्सिया को अनुबंध कर तहलका मचा दिया था। जमशेदपुर एफसी भी ऐसे ही कोई स्पेन के स्टार स्ट्राइकर की तलाश कर रहा है।

एटलेटिको डि मैड्रिड ने मैक्सिको की सैन लुईस क्लब में भी 50 फीसद हिस्सेदारी खरीदी है। एक समय यह क्लब दिवालिया घोषित हो गया था, लेकिन बाद में एडीएम ने इसे संभाला।

--------------------------

115 साल पुराना क्लब है एटलेटिको डि मैड्रिड

स्पेनिश ला लिगा में खेलने वाली एटलेटिको डि मैड्रिड क्लब का स्थापना 26 अप्रैल 1903 में हुआ था। स्पेनिश ला लिगा में बार्सिलोना व रीयल मैड्रिड के बाद तीसरी सबसे सफल क्लब में शुमार एटलेटिको डि मैड्रिड दस बार ला लिगा जीत चुका है। 1962 में यूरोपियन कप जीतने वाली यह टीम 1963 व 1986 में उपविजेता भी रहा था। 1974, 2014 व 2016 में चैंपियंस लीग में उपविजेता का खिताब जीतने वाली इस स्पेनिश टीम ने 2012, 2010 व 2018 में यूरोपा कप पर कब्जा जमाया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस