जासं, जमशेदपुर : एबीएम कालेज गोलमुरी में कोल्हान विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (टाकू) की बैठक संघ के अध्यक्ष डा. राजेंद्र भारती की अध्यक्षता में आयोजित की गई। इसमें संघ के महासचिव प्रोफेसर इंदल पासवान ने विषय प्रवेश कराया। बैठक में कोल्हान विश्वविद्यालय द्वारा वरीय शिक्षकों के प्रोन्नति के लिए किए गए प्रयास के लिए धन्यवाद दिया गया। साथ ही यह भी कहा गया कि फरवरी 2022 से नियुक्त शिक्षकों का नियमित वेतन भुगतान की प्रक्रिया को शुरू किया जाए तथा ऐसे सभी शिक्षकों को मई माह से वेतन देना सुनिश्चित किया जाय। यह भी निर्णय लिया गया कि यदि ऐसे शिक्षकों का वेतन भुगतान मई माह से नहीं हो पाया तो संघ आगे की कार्यवाही पर विचार करेगा।

यूजीसी के वर्ष 2010 के रेगुलेशन को जल्द से जल्द लागू कराने के लिए संघ का एक शिष्टमंडल कुलाधिपति सह राज्यपाल से जल्द मिलेगा और उसपर त्वरित कार्यवाही का आग्रह करेगा। इस रेगुलेशन के तहत वर्ष 2008 में नियुक्त शिक्षकों को प्रमोशन दिया जाना है। यह मामला अभी वित्त विभाग के पास लटका हुआ है। सर्वसम्मति से यह भी निर्णय लिया गया कि विश्वविद्यालय के माध्यम से राज्य सरकार को एक पत्र लिखा जाएगा कि जिस प्रकार ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षकों को मकान भत्ता शहरी क्षेत्र में पदस्थापित शिक्षकों से आधा मिलता है, ठीक उसी प्रकार परिवहन भत्ता भी शहरी क्षेत्र में पदस्थापित शिक्षकों को मिलने वाले भत्ते का आधा दिया जाए। इस मुद्दे को भी महामहिम से मिलने पर उनके सामने रख जाएगा। सर्वसम्मति से यह भी निर्णय लिया गया कि परीक्षा संबंधी कार्यों के लिए जो मानदेय है उसे पुनः परीक्षण के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन से अनुरोध किया जाएगा। इस बैठक में सीनेट सदस्य डा. बीएन ओझा, डा. संजय सिंह, डा. बिनय कुमार सिंह, डा. प्रभात कुमार सिंह , प्रोफेसर अशोक रवानी, प्रोफेसर विनय कुमार गुप्ता , डा. रवि शंकर प्रसाद सिंह, डा. जे पी नारायण, प्रोफेसर वीपी महारथा, प्रोफेसर डी द्विवेदी, डा. अंतरा कुमारी आदि उपस्थित थे।

Edited By: Sanam Singh