जमशेदपुर (गुरदीप राज)। कोरोना वायरस से संक्रमण नहीं फैले, इसको लेकर पूरे देश में लॉकडाउन चल रहा है। भारतीय रेल ने पूरे देश में रेल सेवा बंद कर दी है। उधर, शनिवार को टाटानगर रेलवे स्‍टेशन पर एक ट्रेन रुकी और बड़ी संख्‍या में उस ट्रेन से यात्री उतरे।

टाटानगर स्‍टेशन को भी लॉकडाउन किया गया है। टाटानगर रेलवे स्‍टेशन के बाहर ड़यूटी पर तैनात राजकीय रेल पुलिस व रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने जब यात्रियों को उतरकर बाहर निकलते देखा तो हैरत में पड़ गए। मुस्‍तैदी दिखाते हुए सभी को रोका और स्‍टेशन मास्‍टर के पास ले गए। सभी यात्रियों का चिकित्‍सकीय परीक्षण कराया गया। उसके बाद उन्‍हें जाने दिया गया। 

खाली रैक लाई जा रही सोर्स स्‍टेशन, उसी में सवार हो जा रहे लोग

 देश भर में अचानक हुए लॉकडाउन व ट्रेनों के परिचालन को रद करने के कारण हजारों यात्री अपने गंतव्य तक नहीं पहुंच पाए है। वहीं पूरे देश भर में ट्रेन जहां गई वहीं खड़ी हो गई थी। रेलवे अब वैसे ट्रेनों को उनके परिचालन शुरु करने वाले स्टेशन में भेज रही है। क्योंकि ट्रेनों के खाली रैक को रखने की भी समस्या रेलवे में उत्पन्न हो रही है।

अपने-अपने जोन के स्टेशन पर जा पर जा रही ट्रेन को खाली रैक में बिना किसी सूचना के बैठकर रेलकर्मी व फंसे यात्री टाटानगर सहित अन्य स्थानों की ओर जा रहे हैं। टाटानगर स्टेशन एक खाली रैक के पहुंचने पर करीब 15-20 यात्री टाटानगर स्टेशन में उतर गए। यात्रियों को उतरने से स्टेशन में हड़कंप मच गया कि ट्रेन का परिचालन बंद होने के बाद भी इतने यात्री कहां से आ गए।

टाटानगर स्टेशन में तैनात आरपीएफ के जवान सभी यात्री व रेलकर्मियों को पकड़कर स्टेशन मास्टर के पास ले गए। तब स्टेशन पर ही डाक्टर की टीम बुलाई गई। जहां सभी की जांच करने के बाद उसे टाटानगर स्टेशन से बाहर निकाला गया। 

रेलकर्मी व यात्री फोन कर पता कर रहे कहां जाएगी खाली रैक

विभिन्न स्थानों पर फंसे रेलकर्मी व यात्री अपने अपने परिचय वालों को फोन कर खाली रैक के जाने की जानकारी हासिल करने के बाद उक्त रैक में सवार होकर रवाना हो रहा है। प्रतिदिन चार पांच रैक इधर से उधर पटरियों पर दौड़ रही है। शालीमार- उदयपुर एक्सप्रेस, न्यू दिल्ली-पुरी पुरुषोत्तम एक्सप्रेस, पुणे -हावड़ा एक्सप्रेस सहित अन्य ट्रेनों के खाली रैक में सवार होकर तमाम लोग अवैध तरीके से यात्रा कर रहे हैं।  

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस