जमशेदपुर : बिष्टुपुर थाना अंतर्गत गुजराती सनातन समाज के पास झपट्टामार बदमाशों ने चार अक्टूबर को पारोमिता मुखर्जी नामक महिला के गले से सोने की चेन छिनतई कर फरार हो गया। घटना के समय पारोमिता मुखर्जी ने शोर भी मचाया, लेकिन बदमाश चेन झपटकर फरार हो चुका था। भुक्तभोगी पारोमिता मुखर्जी ने बताया कि वह बिष्टुपुर के रोड बिड़ला भवन की रहने वाली हैं।

वह खरीददारी करने के लिए बाजार गई थी। वह जैसे ही गुजराती समाज के पास रोड के उस पार खड़ी थी, अचानक मोटरसाइिकल पर सवार दो बदमाश वहां पहुंचे और गले से सोने की चेन छिनतई कर फरार हो गए। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंच कर पुलिस घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुट गई है, ताकि बदमाशों को पकड़ा जा सके।

दपूरे की कोल लोड़िंग 28 प्रतिशत तक बढ़ी

जमशेदपुर : दक्षिण पूर्व रेलवे (दपूरे) में कोयले की ढुलाई में चालू वित्तीय वर्ष की पहली छमाही में 28 प्रतिशत तक बढ़ी है। अप्रैल से सितंबर माह के बीच 25.51 मिलियन टन कोल लोड़िंग की है जो पिछले वित्तीय वर्ष के आलोच्य अवधि की तुलना में 28.06 प्रतिशत अधिक है। चालू वित्तीय वर्ष में कोल लोड़िंग में रेलवे को 2672.68 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया है जो पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 63 प्रतिशत अधिक है।

वहीं, कुल माल लोड़िंग के मामले में पिछले छह माह में रेलवे ने 97.86 मिलियन टन माल की ढुलाई की है। कुल आंकड़ों की तुलना में भी रेलवे ने बीते वित्तीय वर्ष की छमाही में 7786.70 करोड़ रुपये अर्जित किए थे। उसकी तुलना में चालू वित्तीय वर्ष में रेलवे ने 9.02 प्रतिशत की वृद्धि के कारण 8488.99 करोड़ रुपये की कमाई की है। रेलवे छह माह में कोल, आयरन ओर, पिग आयरन, फिनिश स्टील, सीमेंट व पेट्रोलियम उत्पादों की ढुलाई की है।

संबलपुर डिवीजन में एनआइ वर्क, संबलेश्वरी एक्सप्रेस प्रभावित

संबलपुर डिवीजन के रूपरा रोड व नरूला रोड के बीच इंटर लाकिंग (एनआइ) व नान इंटर लाकिंग का काम होना है। ऐसे में 16 अक्टूबर को 18005 हावड़ा जगदलपुर संबलेश्वरी एक्सप्रेस को टिटलागढ़ तक शार्ट टर्मिनेट किया जाएगा। ये ट्रेन टाटानगर से होते हुए हावड़ा नहीं जाएगी। वहीं, 17 अक्टूबर को डाउन ट्रेन 18006 जगदलपुर हावड़ा एक्सप्रेस टिटलागढ़ से ही रवाना होगी। दक्षिण पूर्व रेलवे ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है।

सड़क दुर्घटना में दो दर्जन से अधिक घायल

दुर्गापूजा के दौरान नवमी व दशमी के दिन दो दर्जन से अधिक लोग सड़क दुर्घटना में घायल होकर अस्पताल पहुंचे। सिर्फ महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कालेज अस्पताल की बात करें तो यहां कुल 27 लोग घायल होकर पहुंचे हैं। इसमें पांच लोग गंभीर रूप से घायल थे, जिन्हें टीएमएच रेफर कर दिया गया। वहीं, दूसरे अस्पतालों में भी घायल होकर लोग पहुंचे। मालूम हो कि दुर्गापूजा के दौरान तेज गति से वाहन चलाने के क्रम में कई लोग घायल हो जाते हैं। हर साल दुर्गापूजा में घायलों की संख्या बढ़ जाती है।

Edited By: Jitendra Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट