जमशेदपुर, जासं। परसुडीह थाना क्षेत्र में एक 13 वर्षीय नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। मामले में नाबालिग की शिकायत पर पांच आरोपितों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। घटना के बाद से आरोपित फरार है। मामला तीन जुलाई की रात एक बजे की है।

आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

नाबालिग और स्वजनों ने चार जुलाई को थाना में जानकारी दी। आरोपितों में अर्जुन सोरेन, आशिक, सोनू, मीलू का छोटा पुत्र और किरीपात्रो का पति है। सभी परसुडीह थाना क्षेत्र शंकरपुर के निवासी है। सदर अस्पताल में नाबालिग की मेडिकल जांच पुलिस ने कराई। अदालत में 164 के तहत उसका बयान पुलिस कराएंगी। आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने स्वजनों पर दबाव बना रखा है। घटना से नाबालिग और उसके स्वजन भयभीत है।

शौच के लिए जाते वक्त उठाकर ले गया था आरोपी

नाबालिग ने पुलिस को बताया वह घटना के दिन रात में बाथरूम जाने के लिए निकली थी। आरोपितों ने उसे पकड़ लिया। घर से 100 मीटर की दूरी पर एक अर्द्धनिर्मित मकान में ले गए। मुंह दबा दी। इसके बाद सभी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद धमकी देते हुए सभी भाग गए। नाबालिग वहीं मकान में ही गिरी पड़ी रही। स्वजनों ने जब उसे नहीं देखा तो उसकी खोज करते हुए घर से बाहर निकले। बच्ची को मकान में देखा।

क्षेत्र में दुष्कर्म की वारदात नहीं हो रही है कम

पूछताछ में उसने स्वजनों को दी। रात में ही मामला परसुडीह थाना तक पहुंचा। नाबालिग को सदर अस्पताल में दाखिल कराया गया। गौरतलब है। दुष्कर्म की घटनाएं लगातार हो रही है। चाकुलिया में नाबालिग के साथ दुष्कर्म के बाद आरोपित ने अश्लील वीडियो को वायरल कर दिया था। इससे पहले नाबालिग सबर के साथ उसके परिचित ने ही दुष्कर्म किया था। वह गर्भवती है। बागबेड़ा थाना क्षेत्र में युवती के साथ दुष्कर्म की घटना हुई थी।

Edited By: Madhukar Kumar