जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : कोरोना की तीसरी लहर में जितनी तेजी से लोग संक्रमित हो रहे हैं उतनी ही जल्दी ठीक भी हो रहे हैं। जिला सर्विलांस विभाग के अनुसार, बीते पांच दिन में कुल दो हजार 450 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जो अच्छी खबर है। राहत की बात यह भी है कि बीते दो दिन से मरीजों की संख्या में थोड़ा कमी देखी जा रही है।

हालांकि, अभी कुछ कहना जल्दीबाजी होगी। 16 जनवरी को तीसरी लहर में सबसे अधिक 1218 मरीज स्वस्थ हुए हैं। अच्छी बात यह भी है कि मात्र 3.75 प्रतिशत मरीजों को ही अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ रही है। बाकी मरीज होम आइसोलेशन में ही ठीक हो जा रहे हैं। जबकि दूसरी लहर में इसका उलट था। उस दौरान अधिक से अधिक मरीजों को

भर्ती कराने की जरूरत पड़ रही थी।

शरीर को कम नुकसान पहुंचा रहा वायरस

जिला सर्विलांस पदाधिकारी डा. साहिर पाल ने कहा कि तीसरी लहर में मरीज चार से पांच दिन में स्वस्थ हो जा रहा है। उनकी रिपोर्ट निगेटिव आ जा रही है। जबकि दूसरी लहर में 12 से 15 दिन का समय लगता था। वहीं, तीसरी लहर में कुछ ही मरीजों की स्थिति गंभीर हो रही है। बाकी होम आइसोलेशन में ही ठीक हो जा रहे हैं। इसका मतलब है कि अभी जो वायरस है वह पहले की अपेक्षा काफी कमजोर पड़ा है। मरीजों की सेहत पर इसका प्रभाव कम से कम देखा जा रहा है। मरीज को ठीक होने के बाद भी उसका कोई साइड इफेक्ट नहीं देखने को मिल रहा है।

वैक्सीन का अहम योगदान

डा. साहिर पाल ने कहा कि जिस मकसद से देश में टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी उसमें हम सभी काफी कामयाब हुए हैं। अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन देकर उनकी जान बचाने में सफलता मिली है। कोरोना से बचाव का एक मात्र उपाय वैक्सीन ही है, इसलिए हर कोई वैक्सीन अवश्य लें।

Edited By: Rakesh Ranjan