जमशेदपुर,अन्वेश अंबष्ठ। Jharkhand Assembly Election 2019 झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 में जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा सीट सबसे हॉट सीट के तौर पर चर्चित है। इस क्षेत्र की हर गतिविधि पर खुफिया निगाह रखी जा रही है। इस सीट पर मुख्यमंत्री के सामने उनके ही कैबिनेट मंत्री रहे सरयू राय बगावत कर चुनावी मैदान में है। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ और झारखंड विकास मोर्चा के सचिव अभय सिंह भी ताल ठोक रहे हैैं। यहां सात दिसंबर को वोट डाले जायेंगे।

आरोप-प्रत्यारोप के दौर में व्यक्तिगत और पारिवारिक बातें भी मीडिया और सोशल मीडिया के माध्यम से उछाली जा रही हैं। प्रत्याशियों के समर्थक गली-मोहल्ले में एक-दूसरे पर छींटाकशी कर रहे हैं। तरह-तरह की नारेबाजी, पर्चेबाजी भी हो रही है। क्षेत्र में हर दिन विवाद हो रहा है। ऐसा नहीं कि पुलिस-प्रशासन और चुनाव पर्यवेक्षक अनजान हैं। स्पेशल ब्रांच और खुफिया विभाग के अधिकारी पल-पल निगाह रखे हुए हैैं। मतदान के दिन इलाके में तनाव-विवाद की आशंका के मद्देनजर खाकी भी चुनावी मोड में है। बवाल की आशंका कहां है कौन साजिश रच सकता है या फिर संघर्ष के हालात कहां बन रहे हैं। इन सबपर खुफिया जानकारी ली जा रही है। पिछले चुनाव में हंगामा, मारपीट जैसी घटना किस बूथ पर हुई थी। इसे लेकर जानकारी एकत्र की जा रही है। इनसे निपटने को पुलिस ने रणनीति भी बना रखी है।

हो चुकी है झड़प

प्रत्याशियों के समर्थक और वोटरों की गोलबंदी के बीच सिदगोड़ा दस नंबर बस्ती में झाविमो की नुक्कड़ सभा में हमले का प्रयास 28 नवंबर को किया गया। आरोप भाजपा पर लगा। बर्मामाइंस के रघुवर नगर में चुनाव प्रचार को गए निर्दलीय प्रत्याशी सरयू राय और भाजपा समर्थकों के बीच झड़प हो चुकी है। मौका रहते पुलिस ने मामले को संभाल लिया।

ये कहते एसएसपी

शांतिपूर्ण चुनाव को लेकर पूरी तैयारी है। जो भी चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश करेगा। उसपर कानूनी कार्रवाई होगी। पूर्वी विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र पर क्यूआरटी और पुलिस बल की तैनाती रहेगी। बवाल करने वालों की गिरफ्तार कर मतदान समाप्ति तक कैंप जेल में रखा जाएगा है। फोर्स की कोई कमी नही है।

- अनूप बिरथरे, वरीय पुलिस अधीक्षक

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस