जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : लौहनगरी की महिलाएं हेल्थ व फिटनेस का खास ख्याल रख रही हैं। स्लिम बने रहने के लिए महिलाएं व्यायाम के अलग-अलग तरीके भी अपना रही हैं। इन दिनों महिलाएं जुम्बा डांस की ओर आकर्षित हो रही हैं। चूंकि जुम्बा डांस से कम समय में मोटापा को काबू किया जा सकता है, इसलिए इसकी डिमांड बढ़ी हुई है।

महिलाओं के रुझान के देख कर शहर में जगह जगह जुम्बा की कक्षाएं चलाई जा रही हैं। जुम्बा के जानकार प्रशिक्षकों की भी खासी डिमांड है, क्योंकि प्रशिक्षक सही न हो तो जुम्बा से सेहत बनने की जगह बिगड़ भी सकती है। सोनारी स्थित रिद्म में प्रतिदिन महिलाएं जुम्बा की कक्षाएं ले रही हैं और संगीत के धुन पर नृत्य करती हैं।

यह होते हैं फायदे

कैलोरी बर्न : महिलाएं जुम्बा डांस कर अपना वजन कम कर रही हैं। जुम्बा की एक क्लास करने से करीब 500 से 800 कैलोरी बर्न होती है।

ब्रीथिंग : जुम्बा डांस एरोबिक्स कैटेगरी में आता है। इस डास को करते वक्त महिलाओं को खूब कूदना पड़ता है, जिससे डांस करने वालों के फेफड़े जोर-जोर चलने लगते हैं। इसको करने के लिये गहरी सास लेनी पड़ती है, जिससे फेफड़ों की जिंदगी बढ़ती है।

ठीक रहती सेहत : शरीर का मोटापा कम करने के अलावा जुम्बा डांस शरीर को फिट रखने का महत्वपूर्ण तरीका है। जुम्बा के मूवमेंट शरीर के हर पार्ट पर जोर देते हैं, जिससे वह पार्ट टोन हो जाता है और धीरे धीरे शरीर स्लिम व फिट हो जाता है।

तेजी से घटता वजन

शरीर को फिट व स्वस्थ रखने के लिए जुम्बा डांस करना अच्छा होता है। इससे शरीर के हर हिस्से में मूवमेंट होती है, जिससे वजन भी तेजी से घटने लगता है और शरीर स्लिम होने लगता है। मेरी जुम्बा की कक्षाओं में फिलहाल 30 महिलाएं जुम्बा डांस करने आती हैं।

- अर्चना, जुम्बा डांस क्लास की संचालिका

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस